महिलाओं में कामेच्छा बढ़ाने की दवा

महिलाओं में कामेच्छा बढ़ाने की दवा

अक्सर जिस तरह से पुरुषों में सेक्स को लेकर परेशानी का सामना किया जाता है उसी तरह से महिलाओं को भी सेक्स की इच्छा को लेकर कमी देखि जाती है । कई कई महिलाओं में यह बहुत जल्दी उम्र में ही होने लगता है की उनको सेक्स को लेकर कोई खास उत्साह नहीं रह जाता है । वह सेक्स करने से कतराने लगती है । बहाने लगाने लगती है अपने पार्टनर से दूरी बनाने लगती है । मोनोपोज के बाद ऐसा होना आम बात है पर बिना मोनोपोज के ऐसा होना थोड़ा परेशानी भरा हो सकता है । 

महिलाओं में 30 की उम्र से ही यह परेशानी होने लगती है । इसके कई सारे कारण हो सकते हैं जैसे बहुत ज्यादा फिजिकल काम करना , मेंटली परेशान होना , बहुत ज्यादा थक जाना , पार्टनर के साथ खुश ना होना , यौन दर्द सभी उम्र की महिलाओं में एक आम शिकायत है और इसमें वल्वा में दर्द, पैठ के साथ गहरा दर्द, या पेल्विक मांसलता का कसना सेक्स को लेकर कोई फेंटसीज ना होना । ऐसे में महिलों को कामेच्छा बढ़ाने के लिए दवाएं और कुछ नुस्खे हैं जो मददगार साबित हो सकते हैं । 

महिलाओं में यौन समस्याओं को चार श्रेणियों में रखा गया है :- यौन दर्द, कम इच्छा, कम उत्तेजना, और संभोग सुख। ये एफएसडी के डीएसएम वी वर्गीकरणों को बारीकी से दर्शाते हैं, जिनमें शामिल हैं:- जीनिटो-पैल्विक दर्द / पैठ विकार (यौन दर्द), महिला यौन रुचि / कामोत्तेजना विकार (कम इच्छा और कम उत्तेजना), और महिला संभोग विकार (ओगाज़्मिक डिसफंक्शन)।

सेक्स मामलों के मनोचिकित्सकों के मुताबिक सेक्स को लेकर चाहत में उतार चढ़ाव सामान्य बात है।  खास तौर से जब महिलाओं की उम्र बढ़ने लगती तो उनकी सेक्स की चाहत कम हो जाती है। हालांकि कुछ मनोचिकित्सक इसे चिकित्सीय स्थिति से जोड़कर देखते हैं और दिमाग में केमिकल्स के असंतुलन को इसका कारण मानते हैं। 

औरतों के जोश के लिए दवा :- 

कुछ समय पहले  औरतों में इस तरह की समस्या से निपटारा पाने के लिए भारत में कोई दवा उपलबद्ध नहीं थी । विदेशों में इस लड़कियों को गरम करने की दवाएं उपलबद्ध थी । जिससे 45 मिनिट तक दवा का असर रहता है और महिलाएं कामोतेजना लिए हुए रहती है । परंतु इस तरह की कोई दवा भारत में उपलबद्ध नहीं थी । जिसके कारण महिलाओं को परेशानी का सामना करना पड़ता था । 
 यह परेशानी ऐसी है जिसके बारे में लोग या महिलाएं किसी से सहजता के साथ बात भी नहीं कर पाती है यहाँ तक की अपने पार्टनर से भी नहीं । 
परंतु अब इस परेशानी का हल कई रूप में उपलब्ध है जैसे दवाइयाँ , घरेलू उपाय , पार्टनर एक्टिविट्ज । 

दवाइयाँ :- 
लड़की को गरम करने के लिए बाजार में पिंक वायग्रा के नाम से दवा आती है । पहले तक यह सिर्फ पुरुषों के सेवन हेतु ही होती थी जो की नीले रंग की हीरे के आकार की होती है । पर अब महिलाओं के लिए भी बाजार में पिंक वायग्रा के नाम से दवा आती है जो महिलाओं को गरम करने यानि की उनमे कामोतेजना बढ़ाने का काम करती है । वैज्ञानिकों का दावा है कि इस दवा का सेवन करने के बाद महिलाएं शारीरिक इच्छा के साथ-साथ मानसिक रूप से भी सेक्स के लिए प्रेरित होंगी , इसके साथ ही सेक्स करने से करीब 3 -4 घ्नते पहले इस दवा का सेवन किया जाना होता है । यह दवा एस्प्रिन से भी छोटी होती है इसके चारों ओर मिंट की कोटिंग की जाती है । 
फ़्लिबानसेरिन को ही वायग्रा का नाम दिया गया है । यह दवा एंटिडिप्रेशन पिल के तौर पर विकसित की गई थी । यह दवा मस्तिष्क में डोपामाइन, नोराड्रेनालाइन और सेरोटनिन को संतुलित करने का काम करती है । पर जब इस दवा का क्लीनिकल टेस्ट किया गया तो पाया गया की इसका मूड पर कोई असर नहीं हो रहा है परंतु जिन लोगों ने इस दवा का सेवन किया है उनमे सेक्स को लेकर रुचि बढ़ गई है । इसलिए इसको सेक्स से जुड़ी परेशानियों से परेशान महिलाओं के लिए पेश किया गया । 
इसी के साथ ब्रिटिश की एक कंपनी के द्वारा भी फ़ीमेल वियाग्रा बनाई गई है और इसी के साथ महिलाओं में कामोतेजना बढ़ाने के लिए इंजेक्शन का भी निर्माण किया गया है । जो महिलाओं को सेक्स करने से 5 मिनिट पहले लेना होता है और इसका असर 2 घंटे तक रहता है । 

लड़कियों को गरम करने के घरेलू उपाय :- 

लड़कियों में कामोतेजना को बढ़ाने के लिए कुछ आहार भी हैं जिनका सेवन उनमे यौन सयाओं को दूर करने में लाभकारी होता है । 

लहसुन :- लहसुन खाने से भी महिलाओं में कामेच्छा तीव्र होती है। यह सबसे आसान घरेलू उपाय है। यह प्राकृतिक तरीके से खून को पतला करता है। यह हाई ब्लड प्रेशर से भी बचाता है। लहसुन में एंटीकॉगुलेंट गुण पाया जाता है, जो जननांगों में खून के प्रवाह को बढ़ाता है। जिन महिलाओं को यौन से जुड़ी समस्या है उनको शाम होने से पहले ही लहसुन का सेवन करना चहाइए । इससे वह काफी देर तक अपने पार्टनर का साथ दे सकती है । 

सेब - सेब का सेवन महिलाओं में कामेच्छा बढ़ाने में भी मदद करता है। देर तक सेक्स का आनंद लेने में भी सहायक होता है। सेब में एंटीऑक्सीडेंट, फ्लेवोनॉएड पाया जाता है जो महिलाओं के प्राइवेट पार्ट्स में खून के प्रवाह को तेज करता है, जिससे ये अंग सेक्स के लिए प्राकृतिक तरीके से उत्तेजित होते हैं। इसके अलावा सेब खाने से सेक्स के दौरान दर्द भी नहीं होता है।

अनार का जूस :- अनार का जूस इस तरह की समस्या में रामबाण का काम करता है ।अनार  का जूस  इंसटेंट एनर्जी प्रदान तो करता ही है साथ ही यह चाहे पुरुष हो या महिला दोनों में कामोतेजना बढ़ाने का काम भी करता है । जिन लोगों में कामोतेजना नहीं होती है उनको रोजाना अनार के जूस का सेवन करना चाहिए । यह एंटीओक्सीडेंट से भरपूर होता है जो रक्त प्रवाह को बढ़ाने में मददगार साबित होता है । 

केसर :- अनार के अलावा केसर ऐसी चीज़ है जो कामोतेजना को बढ़ाने में बहुत तेज़ी से काम करती है । महिलाओं को इस परेशानी से निपटारे के लिए केसर को दूध में भी डालकर पी सकती हैं। चाहें, तो केसर के दो-तीन रेशे को गर्म पानी में डालकर रख दें । इसके बाद इसे चावल के साथ खा सकती हैं।

किसी भी रिश्ते के लिए एक दूसरे का साथ होना और देना बहुत ज्यादा जरूरी होता है । ऐसे में जब आप दोनों पार्टनर एक दूसरे के साथ होते हैं और संबंध बनाना चाहते हैं तब भी दोनों की ही सहमति और इन्टरेस्ट जरूरी होता है । ऐसे में संबंध बनाने से पहले की गई कुछ क्रियाएँ आपके लिए खाने में नमक जैसा काम करती है जो आपके पार्टनर को संबंध देर तक बनाए रखने और आपका साथ ठीक से देने उनको गरम करने में सहायक होता है और उस रिश्ते का स्वाद बढ़ाती है । 
बॉडी में कुछ ऐसे पॉइंट्स पाये जाते हैं जो आपके पार्टनर को आपका साथ अच्छे से देने के लिए तैयार करते हैं । 

लड़की को तुरंत गरम करने के उपाय :- 

माथे पर चूमना :- माथे पर चूमना लड़कियों को तुरंत गरम कर सकता है बस आपको इसका सही तरीका मालूम होना चाहिए । इसके लिए आपको करना सिर्फ इतना है कि जब आप अपनी महिला मित्र को माथे पर चूमे तो अपने होठों को थोड़ी देर एक ही जगह पर रखकर चूमते रहे।  और कुछ सेकंड बाद आपको खुद ही समझ आ जाएगा की माथे पर चूमना कितना शानदार अनुभव हो सकता है।

गर्दन :- यह हमारे शरीर का बहुत ही नाजुक अंग होता है । लड़का हो या लड़की  हो दोनों  के लिए ही यह पॉइंट बहुत ही सेंसेटिव होता है । यदि आप अपने पार्टनर को तुरंत ही गरम करना चाहते हैं तो बहुत ही हल्के दबाव के साथ गर्दन पर किस करने से बेहतर कुछ नही हो सकता है यह आपको तुरंत ही नतीजे देगा । पर इस बात का ब्ध्यान रहे की ज्यादा ज़ोर आजमाइश नहीं की जाये क्योंकि यह बहुत ही सेंसेटिव पॉइंट है जिस पर की गई गलती आपको बहुत भारी भी पड़ सकती है । 

कंधे पर , कमर पर, पैरों पर  उँगलियाँ चलाना अंगूठे पर मसाज और  किस करने से महिलाओं में  रक्त का प्रवाह (blood flow) बढ़ता है और ऑक्सीटोसिन नामक हार्मोन का स्राव (release) होता है जिसके कारण यौन उत्तेजना बढ़ती है।  इसके अलावा हेड मसाज करना भी आपको इस मामले में मददगार साबित हो सकता है । ऐसा करने से महिलाओं के तंत्रिकाओं में ऑक्सीटोसिन बहुत तेज़ी से रिलीज होने लगता है और वह तुरंत गरम होने लगती है । यह बहुत ही संवेदनशील एहसास होता है इसके लिए पुरुषों को थोड़ा धीरज और प्यार के साथ काम लेने की आवश्यकता होती है । 


Dr. KK Aggarwal

Recipient of Padma Shri, Vishwa Hindi Samman, National Science Communication Award and Dr B C Roy National Award, Dr Aggarwal is a physician, cardiologist, spiritual writer and motivational speaker. He is the Past President of the Indian Medical Association and President of Heart Care Foundation of India. He is also the Editor in Chief of the IJCP Group, Medtalks and eMediNexus

 More FAQs by Dr. KK Aggarwal