जल्दी से लिंग का आकार बढ़ाएं | Tips to Increase Penis Size in Hindi

जल्दी से लिंग का आकार बढ़ाएं | Tips to Increase Penis Size in Hindi


पुरुषों के बीच हमेशा से ही यह एक अवधारणा रही है कि अपनी या अपने साथी को चरमसुख (climax) प्रदान करने के लिए एक बेहत लिंग यानि पेनिस (PENIS) का होना बहुत जरूरी है। अक्सर पुरूषों में अपने पेनिस के साइज को लेकर बहुत उत्सुकता रहती है, वह उसे हमेशा मौजूदा साइज़ से और बड़ा और मोटा करने की कोशिश में लगे रहते हैं। और पुरुषों की इस मानसिकता या कोशिश के पीछे एक ही कारण है और वो ये कि वह अपने साथी को संभोग (sex) का वो सुख देना चाहते हैं जिसकी वह उम्मीद भी नहीं कर सकते। 

अब वैसे तो अपने साथी को चरम सुख प्रदान करने के लिए लिंग का आकार और उसकी लम्बाई ज्यादा मायने नहीं रखती, लेकिन फिर भी कई लोगों में लिंग की साइज को लेकर कई तरह के भ्रम में रहते हैं और खुद को आत्म विश्वास नहीं रहता है। जिसके कारण उनको लगता है की वह अपने पार्टनर्स को संतुष्ट नहीं कर पा रहे हैं । इसके लिए लिंग का साइज बढ़ाना ही आखरी उपाय लगता है । 

लिंग की साइज का छोटा होना लोगों के आत्मविश्वास पर तो आघात करता ही है कई लोगों में यह डिप्रेशन का भी बड़ा कारण बन जाता है। अब किसी पुरुष के लिंग का आकार छोटा है वह कभी भी इस बारे में बात करना पसंद नहीं करेगा और यह सबसे बड़ी गलती है। लिंग का छोटा आकार गुप्त रोग (Venereal disease) की श्रेणी में आता है, जिसकी वजह से पुरुष जिस संबंध में बात करना खुद की शान में गुस्ताखी मानते हैं और फिर खुद से दवाएं लेना (self-medication) शुरू कर देते हैं। 

खुद से दवाएं अब चाहे किसी भी संदर्भ में क्यों न ली गई हो वह आपको काफी नुकसान पहुंचा सकती है। वहीं लिंग के आकार को बढ़ाने के लिए ली गई दवाओं से आराम न मिलने की सूरत में पुरुष अक्सर निराशा के शिकार हो जाते हैं और डिप्रेशन (depression) में चले जाते हैं। इतना ही नहीं, उचित लाभ मिलने की जगह पुरुषों को कई बार संक्रमण (infection), वीर्य की कम गुणवत्ता (low quality of semen), सेक्स की कम इच्छा यानि कम कामेच्छा (low libido) और यहाँ तक कि नपुंसकता (Erectile dysfunction) का भी सामना करना पड़ता हैं। ऐसे में हम आपको सलाह देंगे कि आप हमेशा डॉक्टर की सलाह से ही सेक्स संबंधित दवाएं लें, अब वो चाहे वियाग्रा (Viagra) ही क्यों न हो। 

वैसे देखा जाए तो पुरुष का औसत लिंग का आकार 5 इंच (5 inch) होता है जो कि साथी को चरमसुख प्रदान करने के लिए काफी है। पर अगर आप अपने लिंग के आकार को और बढ़ाना चाहते हैं तो आप नीचे बताए गये उपायों को अपना सकते हैं, जिसकी मदद से आपको अपने पेनिस का साइज़ बढ़ाने में मदद मिल सकती है। 




हालाँकि, लिंग के आकार को बढ़ाने का कोई भी सटीक तरीका या दवा मौजूद नहीं है, पर आप निम्न कुछ उपायों की मदद से अपने लिंग के आकार में थोड़ी वृधि जरूर कर सकते हैं :- 

पेनिस साइज़ को बढ़ाने के लिए एक्सर्साइज़ (exercise) करें :- 

  1. अल्टिमेट स्ट्रेचर (ultimate stretcher) :- यह एक्सर्साइज़ उन लोगों के लिए बहुत कारगर सिद्ध हो सकता है जो लिंग को मोटा कैसे करें इसकी चिंता में रहते है। इसके साथ, यह पेनिस के टेढ़ापन और ढीलापन दूर करने में सहायक हो सकता है। इसे शुरू करने से पहलें रिलैक्स हो जाए और थोडा वार्म अप कर लें।  

  2. कीगल एक्सर्साइज़ (kegel exercises) :- यह एक लोकप्रिय एक्सर्साइज़ है जो कि महिलायों के साथ-साथ पुरुषों के लिए भी बहुत फायदेमंद हैं। यह पुरुषों में रक्त संचार और इरेक्शन टाइम बढाने में बहुत मददगार है। यह बहुत हई प्रभावी उपचार है। रक्तसंचार अच्छा होने से यह लिंग के आकार को बढ़ाने में भी बहुत मददगार होती है। आप लिंग में रक्तसंचार बढ़ाने के लिए निम्न उपायों को भी अपना सकते हैं :- 

  1. धूमपान न करें

  2. रोज़ाना 30 मिनट हल्का व्यायाम करें

  3. पेट की निचले भाग की चर्बी को कम करे

  4. संतुलित और स्वस्थ आहार ही लें 

  5. शराब से दूर रहें 

  1. मसाज (massage) :- जैतून के तेल या सरसों के तेल से हफ्ते में 3 बार 15 मिनिट तक मसाज करने से भी फाइदा होता है। यह सेफ सुरक्षित तरीका है पर सावधानी बरतना बहुत  जरूरी है।

विटामिन्स को अपनाएं (take vitamins) 

जब आप अपने लिंग के आकार को बढ़ाने की ओर ध्यान दे रहे हैं आप कोशिश करें कि आप अपने द्वारा लिए जाने वाले आहार का विशेष ध्यान रखें। इस दौरान आप अपने आहार में सभी विटामिन लेने की कोशिश करें, जिसमें निम्न विशेष हैं :-

  1. विटामिन बी5 (Vitamin B5) :-  लिंग की साइज को बढ़ाने में बहुत ही मददगार होता है। यह विटामिन सक्रियता को बरकार रखने में कार्यरत रहता है। 

  2. विटामिन सी (Vitamin C) :- लिंग का साइज बढ़ाने के लिए विटामिन सी बहुत कारक होता है। 

  3. विटामिन ए (Vitamin A) :- इसके साथ ही विटामिन ए का सेवन भी किया जाना चाहिए जो कि लाल रक्त कोशिस्काओं को बढ़ाने में मददगार होती है। 

लिंग का साइज़ बढ़ाने के लिए सर्जरी भी है विकल्प (Surgery is also an option to increase penis size)

मेडिकल  साइंस में इन सभी उपायों को मोल कम ही दिया गया है। ऐसे में डॉक्टर्स और मेडिकल साइंस का मानना है की एक उम्र के बाद लिंग का आकार बढ़ना बंद हो जाता है। पर यह है तो मसल्स ही ऐसे में सर्जरी भी एक उपाय है जिससे लिंग के आकार को बढ़ाने में मदद मिल सकती है। पर यह सेफ / सुरक्षित तरीका नहीं है। लिंग के आकार को बड़ा करने वाले सर्जरी में भी कई तरह के साइड इफैक्ट यानी नुकसान देखने को मिलते हैं। इस तरह के सर्जरी होने के बाद कई दिनों तक आपके लिंग में उत्तेजना उत्पन्न नहीं होती है। कई मामलों में यह पुरी तरह से ही बंद भी हो जाती है।

क्या है पेनिस सर्जरी का प्रोसेस? What is the process of penis surgery?

शोध के अनुसार लिंग के साइज को बढ़ाने के लिए जो भी सर्जरी की  तकनीक अपनायी जाती है। उनका सुरक्षा, प्रभावशीलता और रोगी की संतुष्टि को लेकर मिले जुले परिणाम होते हैं। लिंग में एक लिगामेंट होता है जो लिंग को इरेक्शन में मदद करता है। सर्जरी में लिंग के साइज को बढ़ने के लिए इस लिगामेंट को काट दिया जाता है।  इसके बाद हड्डी और उस काटे हुए लीगामेंट  के बीच में स्किन ग्राफ्टिंग कर दी जाती है। इससे लिंग बाहर की तरह निकल जाता है और इसका साइज बड़ा लगने लगता है। इससे लिंग की लम्बाई बढ़ जाती है। इस सर्जरी से जब लिंग में इरेक्शन होती है तो इसका साइज दो सेंटीमीटर तक बढ़ जाता है। लिंग का साइज इसमें बढ़ तो जाता है लेकिन इससे इन्फेक्शन, घाव का निशान पड़ना और लिंग में सेंसेशन की कमी होना आदि समस्याएं हो सकती हैं।

इस तरह की सर्जरी में डॉक्टर बॉडी से फैट लेकर पेनिस के शाफ्ट में डाल देते हैं इससे जिससे शरीर फैट को एब्सॉर्ब कर लेता है। इस सर्जरी से लिंग की संवेदनशीलता कम हो जाती है। इस तरह की सर्जरी को हम आम भाषा में कॉस्मेटिक सर्जरी (cosmetic surgery) कहते हैं । यह सर्जरी काफी दर्द भरी होती है । 

लिंग के आकार में वृद्धि करने का यही ही सबसे सफल उपाय है। यह प्रक्रिया रोगी के आत्मविश्वास को बढ़ावा दे सकती है, लेकिन लंबे समय तक इसे बरकरार रखने के लिए, उन्हें अपने आहार में सुधार करने और व्यायाम करने की आवश्यकता होती है। पेट के नीचले भाग से वसा को हटाने की एक शल्य प्रक्रिया, उनके लिंग को बड़ा दिखा सकती है। जघन क्षेत्र के आस पास के अतिरिक्त वसा को हटाने से आंशिक रूप से दबे हुए लिंग को अधिक बाहर की ओर निकला हुआ दिखाया जा सकता है।सर्जरी से लिंग का आकार 2 सेंटीमीटर तक बढ़ जाता है परंतु यदि रोगी का वज़न फिर से बढ़ता है, तो वसा जघन क्षेत्र में वापस आ जाती है। सर्जरी के बाद कई बातों का खास ध्यान रखने की जरूरत है, जैसे :- वजन न बढ़ने देना, सेन्सेशन में कमी होने के कारण खुद पर ध्यान देंना, खान पान का ध्यान रखना, और नियमित रूप से व्यायाम करना आदि।



Dr. Sukhbir Singh

Dr Sukhbir Singh is a Plastic & Cosmetic Surgeon. He is an MBBS, MS (General surgery), DNB (Plastic Surgery), Fellowship in cosmetic surgery (Brazil). Dr Singh is also a member of APSI (Association of Plastic Surgeons of India), Indian society of Aesthetic Plastic Surgeons, Association of Hair Restoration Surgeons of India and other Indian Societies. He is also an International member of ISAPS (International society of Aesthetic Plastic surgeons) and ASPS (American society of Plastic Surgery). He specializes in Cosmetic surgeries like Hair Transplant, liposuction, abdominoplasty, rhinoplasty, breast surgeries, Post Bariatric Surgery Body contouring and other reconstructive procedures. His record has been by far to do 10,000 follicles in single session of FUE method of Hair Transplantation besides combining FUE and FUT in a single session itself.

 More FAQs by Dr. Sukhbir Singh

Related FAQs

Subscribe To Our Newsletter

Filter out the noise and nurture your inbox with health and wellness advice that's inclusive and rooted in medical expertise.

Subscribe Now   

Medtalks is India's fastest growing Healthcare Learning and Patient Education Platform designed and developed to help doctors and other medical professionals to cater educational and training needs and to discover, discuss and learn the latest and best practices across 100+ medical specialties. Also find India Healthcare Latest Health News & Updates on the India Healthcare at Medtalks