ब्रेस्ट को जल्दी बढ़ाना है तो अपनाए ये टिप्स

ब्रेस्ट को जल्दी बढ़ाना है तो अपनाए ये टिप्स

ब्रेस्ट को जल्दी बढ़ाना है तो अपनाए ये टिप्स 

हर महिला यूं तो खूबसूरत होती है । हर महिला के शरीर की बनावट भी अलग ही होती है । पर कई बार कुछ कारणों से महिलाओं में अपने फिगर को लेकर कुछ खास चिंताएँ देखी जाती है । खास कर स्तनों के आकार को लेकर । स्तनों का आकार हर महिला के लिए जैसे खूबसूरती का दूसरा नाम होता है । कई बार स्तनों जिनको कई लोग बूब्स , छाती क्ले नाम से भी जानते है इनके आकार को  छोटा होने के कारण महिलों में हिन भावना का कारण बन जाता है । महिलाएं आपास में इस बात को तुलना का मज़ाक का विषय बना लेती है । दरअसल यह परफेक्ट बॉडी टाइप का एक सिंबल भी होता है । जिसके चलते कई महिलाओं में आत्मविश्वास की कमी देखी जाती है । 

16 वर्ष की उम्र तक जब तक की लड़कियों को पहली महावारी नहीं होती है तब तक उनके स्तनों का आकार सामान्य रूप से बढ़ता रहता है । इसके बाद जब वह माँ बनती है  और बच्चे को दुध पिलाना शुरू करती है तब उनके स्तनों के आकार में वृद्धि होती है । पर इन सभी के बीच जिन महिलाओं के स्तनों का आकार नहीं बढ़ता है वह मानसिक रूप से तनाव ग्रस्त रहती है । ऐसे में कुछ उपायों के जरिये यह मुमकिन है की स्तनों का आकार बढ़ाया जा सकता है । 

स्तन बढ़ाने के उपाय :- 

घरेलू उपायों के जरिये :- 

मसाज :- सोने पहले जैतून के तेल से लगभग 15 मिनिट तक रोजाना मसाज करने से स्तनों के आकार में फर्क पड़ता है । यह ब्लड सर्क्युलेशन को अच्छा करता है साथ ही ऐसा करना आपको कैंसर की बीमारी से भी बचा कर रखने में सहायक होता है । 

एलोवीरा :- एलोवीरा में बहुत तरह के गुण पाये जाते हैं यह स्किन और मसल्स के लिए बहुत ही अच्छा होता है । रोजाना करीब 30 मिनिट मसाज करने से स्तनों के आकार की वृद्धि में फायदा होता है । 

मेथीदाना :- मेथीदाना वैसे तो कई काम आता है , यह भारतीय रसोई में मसालों में एक खास जगह रखता है । मेथीदाने के पाउडर को कुछ बूंद पानी मिला कर उससे कम से कम दिन में 2 बार मालिश कर उस पेस्ट को 15 मिनिट तक लगा कर रखने से स्तनों के आकार में फायदा होता है । 

स्तनों का आकार बढ़ने का तरीका आहार के जरिये :- 

हमारे शरीर के हर अंग के आकार में वृद्धि और कमी में आहर का बहुत अहम किरदार होता है । स्तनों के आकार में वृद्धि में भी आहार का वही ही किरदार होता है । यदि सही खानपान करें तो इससे स्तनों के आकार में वृद्धि की जा सकती है  । 

विटामिन सी :- विटामिन सी का सेवन करना स्वास्थ्य वर्धर्क होता है । विटामिन सी का सेवन रोजाना नियमित रूप से करना स्तनों के आकार में वृद्धि कर सकता है । 

फलों का सेवन - अपनी डाइट में फलों का सेवन करना ना भूलें।  इसके लिए सेब, बेरी, पीच आदि फलों का सेवन जरूर करें। 

ड्राई फ्रूट्स - काजू, पिस्ता और अखरोट सही मात्रा में लें। 

पोषक तत्व - ग्रीन टी, हर्बल टी आदि का सेवन करें। 

हरी सब्जियाँ - पालक, गाजर, मटर जैसी हरी सब्जियों का सेवन नियमित रूप से करें। 

सोयाबीन :- स्तनों का आकार नहीं बढ़ने की एक बड़ी वजह, बॉडी में एस्ट्रोजन के लेवल में कमी को भी माना जाता है।  यह ब्रेस्ट का साइज बढ़ाने के लिए जरूरी होता है ।  इसलिए आप सोयाबीन खाना शुरू कर दें।  इसे खाने से बॉडी में एस्ट्रोजन लेवल बढ़ता है । सोयाबीन में प्रोटीन की मात्रा भी अच्छी पाई जाती है । 

पपीता :- यह पेट के साथ चेहरे के लिए बहुत ही लाभकारी होता है यह ब्रेस्ट को भी सुडौल बनाने के काम आता है।  पपीते और दूध के कंबाइन डाइट को ब्रेस्ट का साइज बढ़ाने के लिए बेस्ट टिप्स के तौर पर माना जाता है। 

चेस्ट को जल्दी बढ़ाने के लिए योगा और कुछ एक्सर्साइज़ भी फायदेमंद साबित होती है । जैसे :- 

वाल प्रेस :- 

दीवार पर सामने की और अपने कंधों की बराबरी पर हथेलियों को रख दें । जिस प्रकार पुश अप्स किए जाते हैं वही पोजीशन दीवार पर हथेली रख कर अपना लें । आपको पुशप्स ही दीवार की सहायता से करने हैं । यह स्तनों का आकार बढ़ाने में मददगार साबित होता है । 

आर्म प्रेस और आर्म सर्कल्स करीब 15 मिनिट तक रोजाना करना स्तनों का आकार बढ़ाने में बहुत मददगार साबित होता है । 

बेंच प्रेस :- सबसे पहले एक फ्लैट बेंच पर पीठ के बल लेट जाएं।ध्यान रहे इस दौरान पैर जमीन पर सटे हो।अब अपने हाथों में हल्के डंबल्स लें।फिर दोनों हाथों को ऊपर की ओर उठाएं।फिर हाथ को नीचे की ओर लाएं।ध्यान रहे कि जब हाथ ऊपर की ओर उठाते हैं, तो सांस छोड़ें। जब हाथ नीचे की ओर लाते हैं, तो सांस अंदर लें।यह एक्सर्साइज़ आपको 10 मिनिट के लिए रोजाना करें यह स्तनों का आकार बढ़ाने और उनको सुडौल बनाने में बहुत मददगार है । 

भुजंगासन :- सबसे पहले समतल जमीन पर योग मैट या चादर बिछा लें।अब उस पर पेट के बल लेट जाएं।फिर अपने हाथों को सिर के दोनों तरफ ले जाएं और हथेलियों को जमीन पर रखें।ऐसा करते वक्त ध्यान रहे कि पैर सीधे, एक-दूसरे से थोड़े दूर और तने हुए हों।अब गहरी सांस लेते हुए हथेलियों को जमीन के तरफ दबाव डालते हुए, अपने शरीर को आधा यानी नाभि तक ऊपर उठाने की कोशिश करें। सबसे पहले अपने मुंह को आसमान की ओर, फिर सीने को और अंत में पेट के हिस्से को ऊपर उठाना है।इस दौरान पेट के नीचे का हिस्से जमीन से सटा हो और हाथों पर भार देकर संतुलन बनाए रखें। हाथ बिल्कुल सीधे होने चाहिए।इसी मुद्रा में थोड़ी देर रहें और सामान्य तरीके से सांस लेते रहें।फिर धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए अपने पहले की मुद्रा में वापस आएं। यह आसान सिर्फ स्तनों के आकार में फायदा ही नहीं  करता है बल्कि पीठ में दर्द पेट पर जमा एक्सट्रा फेट भी कम करता है जिससे स्तन और भी सुडौल और बड़े लगने लगते हैं । 


ब्रेस्ट जल्दी बढ़ाने का तरीका 

सर्जरी :- 

 शरीर के अंगों की खूबसूरती बढ़ाने के लिए की गई सर्जरी को कोस्मेटिक सर्जरी कहा जाता है । ब्रेस्ट की साइज बढ़ाने का सबसे ज्यादा प्रसिद्ध और आसान तरीका ब्रेस्ट इंप्लांट है । अब तक कई सेलेब्रिटीज और मॉडल्स अपने फिगर की खूबसूरती बढ़ाने के लिए यह सर्जरी करवा चुकी हैं । इस तरह की सर्जरी को ऑग्मेंटेशन मेमो प्लास्टी कहा जाता है। इस सर्जरी द्वारा स्तनों के आकार को आसानी से बढ़ाया जाता है। 

ब्रेस्ट इंप्लांट का कोई साइड इफेक्ट नहीं है। इस सर्जरी से बारीक सा निशान आता है। हल्के दो-तीन टांके आते हैं। इसके बाद हमेशा के लिए कोई फिक्र नहीं रहती। एक घंटे की सर्जरी के बाद दिन के दिन ही छुट्टी मिल जाती है। लेकिन दो से तीन दिनों तक आराम करना होता है। खाने-पीने में किसी तरह का कोई परहेज नहीं करना होता। डॉक्टर्स का कहना है की पहले साल भर में इस तरह के दो से पांच केस आते थे। लेकिन अब यह संख्या बढ़कर 50 से 60 तक पहुंच गई है। लड़कियों में शादी से पहले ब्रेस्ट सर्जरी का तेजी से सहारा ले रही हैं। बड़े शहरों के अपेक्षा छोटे शहरों में इसका तेजी से चलन बढ़ा है। 

ब्रेस्ट इमप्लामेंट सर्जरी कई तरह की होती है और इनकी प्राइज़ भी अलग अलग होती है । अब ब्रेस्ट इंप्लांट सर्जरी इंडिया में भी कई बड़े शहरों में होती है । जैसी गोवा मुंबई , जयपुर ,हैदराबाद ,बेंगलुरु दिल्ली , केरेला , पुणे इत्यादि । इस सर्जरी की शुरुआती प्राइज़ 90,000 के आस पास से शुरू होती है , और आगे इलाज पर निर्भर करती है ।