10.10.236.6

कोरोना से बचने के लिए कौन सा मास्क है सबसे बेस्ट ?

कोरोना से बचने के लिए कौन सा मास्क है सबसे बेस्ट ?

कोरोना से बचने के लिए कौन सा मास्क है सबसे बेस्ट ?

कोरोना भारत आ चुका है और धीरे-धीरे देश के अलग-अलग राज्यों से इसके फैलने की खबरें भी आ रही हैं । हालांकि डॉक्टर्स का कहना है कि घबराने की बात नहीं है लेकिन जितना हो सके सावधानियां बरतें ।

कोरोना के लिए अभी फिलहाल कोई एंटीडोट या दवा नहीं है लेकिन कुछ शुरुआती सावधानियां हैं जिससे कोरोना से बचा जा सकता है । इन्हीं सावधानियों में एक सावधानी है सही मास्क का चुनाव करने की ।  

कौन सा मास्क सबसे बेहतर रहेगा ? कौन सा मास्क कोरोना संक्रमण से बचा सकता है ? ऐसे ही बहुत सारे सवाल मास्क को लेकर लोगों के दिमाग में है । चिंता मत किजिए, कोरोना के लिए कौन सा मास्क आपके लिए सबसे बेहतर है, ये हम आपको बताते हैं ।

ऐसा मास्क लें, जिसकी रेटिंग N95 हो । मास्क लेते समय इस बात का विशेष ध्यान रखें की मास्क आपके साइज़ का हो यानी इस बात को समझ लें कि यह आपको सही से फिट हो जाए ।

कईं बार ऐसा हुआ है कि लोग मास्क तो ले लेते हैं लेकिन मास्क में पूरी तरह हवा आती-जाती रहती है । ऐसे मास्क पहनने का कोई फायदा नहीं होगा ।

मास्क बनाते समय उन सामग्रियों का इस्तेमाल होना चाहिए जो हवा के छोटे-से-छोटे कणों को रोकने में सक्षम हो और सांस को बाहर छोड़ने के लिए एक बेहतर वेंटिलेशन भी प्रदान करे ।

ट्रिपल लेयर मास्क : संक्रमण से बचने के लिए यह मास्क कुछ कारगर है लेकिन इससे भी 30 से 40 प्रतिशत तक ही बचाव हो पाता है। तीन लेयर होने की वजह से यह संक्रमण को कुछ हद तक रोकने में कामयाब रहता है । इसकी कीमत 50 रुपये से शुरू होती है और 200 रुपये तक जाती है ।

सिक्स लेयर मास्क : यह संक्रमण से काफी हद तक बचाव करता है। इससे संक्रमण में लगभग 80 फीसदी बचाव हो सकता है परंतु बहुत अधिक संक्रमित क्षेत्र में यह अधिक कारगर नहीं है। यह काफी हद तक वायरस से संक्रमित होने से बचाता है। यह 200 रुपये से लेकर 1000 रुपये तक की रेंज में उपलब्ध है। इस मास्क को कई बार धोकर इस्तेमाल किया जा सकता है ।

एन-95 : यह मास्क संक्रमण से बचने के लिए सबसे सुरक्षित मास्क माना जाता है। यह संक्रमण को शरीर में जाने से रोकता है। इस मास्क का मूल्य 1000 रुपये से शुरु होकर 1500 रुपये है । डॉक्टर भी आमतौर पर इसी मास्क का प्रयोग करते हैं। लेकिन यह मास्क बेहद टाइट होते हैं और इसी वजह से इन्हें लंबे समय तक पहने रहना संभव नहीं है।

किन्हें है मास्क की आवश्यकता ?

डॉक्टर्स ने लोगों से अपील की है कि बेवजह ही घबराने की ज़रुरत नहीं है । अगर किसी को खांसी, बुखार, ज़ुकाम नहीं है या अगर छींके नहीं आ रही हैं तो ऐसे आदमी को मास्क पहनने की ज़रुरत नहीं है। इसके अलावा जिन लोगों में यह लक्षण दिख रहे हैं, उन लोगों को मास्क पहनना अनिवार्य है ।

मास्क के अलावा किन बातों का रखें ध्यान

मास्क पहनने के अलावा डॉक्टर्स ने लोगों को कुछ सावधानियां बरतने के लिए कहा है । जैसे - जब भी आप किसी वस्तु और व्यक्ति के संपर्क में आएं तो उसके तुरंत बाद हाथों को सैनिटाइज़र, साबुन या हैंड वॉश से धोएं । इसके अलावा जो व्यक्ति छींक या खांसी से ग्रसित हो, उसे दूरी बनाकर रखें ।

जागरुक रहें, जागरुक करें

जागरुक रहना हर खतरे से बचने का सबसे प्राथमिक तरीका है । अगर आप किसी खतरे को लेकर जागरुक हैं तो न तो आप बेचैन होंगे और न ही कोई आपको भयभीत कर सकता है । अगर खतरा आ भी गया तो आप उसका बेहतर इलाज कर सकते हो। यदि आपके आस-पास किसी व्यक्ति में कोरोना संक्रमण के लक्षण दिख रहे हैं तो फौरन नज़दीकी अस्पताल को संपर्क करें ।

अगर हाथ साफ नहीं है तो आंख और मुंह को छुने से बचें

यदि आपने अनचाहे स्थानों और लोगों से हाथ मिलाया है या आप किसी तरह उनके संपर्क में आए हैं तो कोशिश करें कि अपने मुंह पर हाथ न लगाएं । यदि आप मुंह, आंख, कान, नाक आदि पर हाथ लगाएंगे और आपके हाथ में कीटाणु मौजूद हैं तो वो आपकी नाक द्वारा आपकी सांसों में चले जाएगा और मुश्किल खड़ी कर सकता है। इसलिए ध्यान रहे कि जब भी कहीं बाहर से लौटें तो फौरन किसी साबुन, हैंड वॉश और सैनिटाइज़र से हाथ धोएं ।

और पढ़ें - डब्ल्यूएचओ द्वारा कोरोनवायरस के बारे में वर्तमान तथ्य

और पढ़ें - दिल्ली में कोरोनावायरस के 15 पोस्टिव केस