टीबी क्या है? कारण, लक्षण और इलाज | Tuberculosis in Hindi

टीबी या ट्यूबरकुलोसिस एक ऐसा गंभीर रोग है जिसकी वजह से रोगी को हाशिये पर जाना पड़ता है, क्योंकि यह एक फैलने वाला रोग है। यह भले ही एक पुरानी बीमारी क्यों न हो लेकिन फ़िलहाल लोगों के पास इससे जुड़ी ज्यादा जानकारी नहीं है जो कि इस रोग को और भी ज्यादा गंभीर बनाता है। इस लेख में ट्यूबरकुलोसिस के बारे में विस्तार से जानकारी दी है जिसकी मदद से आप इस गंभीर रोग के बारे में जान सकते हैं। लेख में विशेष तौर पर टीबी के चरण, टीबी के प्रकार, टीबी के कारण और लक्षणों की जानकारी दी गई है।  

टीबी क्या है? What is TB?

टीबी एक संक्रामक रोग है जो आपके फेफड़ों या अन्य ऊतकों में संक्रमण का कारण बन सकता है। यदि टीबी रोगी का ठीक से उपचार न किया जाए तो यह बड़ी आसानी से एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति में फ़ैल सकता है और इसके परिणाम गंभीर हो सकते हैं।

 यह आमतौर पर आपके फेफड़ों को प्रभावित करता है, लेकिन यह आपकी रीढ़, मस्तिष्क या गुर्दे जैसे अन्य अंगों को भी प्रभावित कर सकता है। "ट्यूबरकुलोसिस" शब्द लैटिन भाषा के "नोड्यूल" शब्द से लिया गया है जिसका अर्थ होता है, “कुछ ऐसा है जो चिपक जाता है।“ टीबी को यक्ष्मा, तपेदिक और क्षय रोग के नाम से भी जाना जाता है। टीबी से संक्रमित होने वाला हर व्यक्ति बीमार नहीं पड़ता है, लेकिन अगर आप बीमार हो जाते हैं तो आपको इलाज की आवश्यकता होती है।

ट्यूबरकुलोसिस होने पर हर किसी को शुरूआत में ही लक्षण दिखाई नहीं देते। अगर बिना किसी गंभीर लक्षण या बिना किसी लक्षण के ट्यूबरकुलोसिस का निदान किया जाए तो इसका मतलब है कि आपको निष्क्रिय टीबी (inactive tuberculosis) या गुप्त टीबी (latent tuberculosis) संक्रमण है। इस दौरान आपको ऐसा लग सकता है कि टीबी नहीं है, लेकिन यह आपके शरीर के अंदर निष्क्रिय (नींद में) है। यदि आप संक्रमित हैं, लक्षण विकसित करते हैं और संक्रामक हैं, तो आपको सक्रिय ट्यूबरकुलोसिस या ट्यूबरकुलोसिस रोग है। 

टीबी के कितने चरण हैं? How many stages are there of TB? 

ट्यूबरकुलोसिस होने पर अचानक से लक्षण दिखाई नहीं देते हैं, बल्कि निम्न वर्णित चरणों में बढ़ते हुए इसके लक्षण दिखाई देते हैं :-  

  1. संसर्ग (Exposure) :- यह तब होता है जब कोई व्यक्ति टीबी से पीड़ित किसी अन्य व्यक्ति के संपर्क में आया  हो या उसके संपर्क में रहा हो। एक्सपोजर व्यक्ति का त्वचा परीक्षण नकारात्मक होगा, छाती का सामान्य एक्स-रे, और बीमारी के कोई संकेत या लक्षण नहीं होंगे।

  2. गुप्त टीबी संक्रमण (Latent TB infection) :- ऐसा तब होता है जब किसी व्यक्ति के शरीर में टीबी के बैक्टीरिया होते हैं, लेकिन उनमें बीमारी के लक्षण नहीं होते हैं। संक्रमित व्यक्ति की प्रतिरक्षा प्रणाली टीबी के जीवों से दूर हो जाती है, और अधिकांश संक्रमित लोगों में टीबी जीवन भर निष्क्रिय रहता है। इस व्यक्ति का त्वचा परीक्षण सकारात्मक होगा, लेकिन छाती का सामान्य एक्स-रे होगा।

  3. टीबी रोग (TB disease) :- यह उस व्यक्ति का वर्णन करता है जिसके पास सक्रिय संक्रमण के संकेत और लक्षण हैं। व्यक्ति का सकारात्मक त्वचा परीक्षण और सकारात्मक छाती का एक्स-रे होगा। इस चरण में रोगी को लक्षण खुल कर सामने दिखाई देने लग जाते हैं। 

क्या ट्यूबरकुलोसिस के विभिन्न प्रकार होते हैं? Are there different types of tuberculosis

सक्रिय या निष्क्रिय के अलावा, आप विभिन्न प्रकार की टीबी की चपेट में आ सकते हैं, जिसमें सबसे आम, फुफ्फुसीय (फेफड़े) ट्यूबरकुलोसिस (pulmonary (lung) tuberculosis) है। लेकिन टीबी के जीवाणु फेफड़ों के अलावा आपके शरीर के अन्य हिस्सों को भी प्रभावित कर सकते हैं, जिससे एक्स्ट्रापल्मोनरी ट्यूबरकुलोसिस (extrapulmonary tuberculosis) या फेफड़ों के बाहर टीबी हो सकती है। इसके अलावा प्रणालीगत माइलरी ट्यूबरकुलोसिस (systemic miliary tuberculosis) टीबी से भी संक्रमित हो सकते हैं, जो आपके पूरे शरीर में फैल सकती है और निम्न का कारण बन सकती है :-

  1. मेनिनजाइटिस (Meningitis), मस्तिष्क की सूजन।

  2. बाँझ पायरिया (Sterile pyuria) , या मूत्र में सफेद रक्त कोशिकाओं का उच्च स्तर।

  3. पॉट्स डिजीज (Pott’s disease), जिसे स्पाइनल ट्यूबरकुलोसिस या ट्यूबरकुलोसिस स्पॉन्डिलाइटिस (tuberculosis spondylitis) भी कहा जाता है।

  4. एडिसन रोग (Addison’s disease), एक अधिवृक्क ग्रंथि की स्थिति।

  5. हेपेटाइटिस (Hepatitis), एक यकृत संक्रमण।

  6. गर्दन में लिम्फैडेनाइटिस (Lymphadenitis), जिसे स्क्रोफुला या टीबी लिम्फैडेनाइटिस (TB lymphadenitis) भी कहा जाता है।

ट्यूबरकुलोसिस कैसे फैलती है? How is tuberculosis spread?

टीबी तब फैल सकता है जब सक्रिय टीबी रोग वाला व्यक्ति खांसने, छींकने, बात करने, गाने या हंसने के माध्यम से हवा में कीटाणु छोड़ता है। केवल सक्रिय फुफ्फुसीय संक्रमण वाले लोग ही संक्रामक होते हैं। ज्यादातर लोग जो सांस लेते हैं टीबी के बैक्टीरिया बैक्टीरिया से लड़ने और उसे बढ़ने से रोकने में सक्षम होते हैं। इन व्यक्तियों में जीवाणु निष्क्रिय हो जाता है, जिससे एक गुप्त टीबी संक्रमण होता है।

हालांकि बैक्टीरिया निष्क्रिय होते हैं, फिर भी वे शरीर में जीवित रहते हैं और बाद में सक्रिय हो सकते हैं। कुछ लोगों को एक गुप्त टीबी संक्रमण जीवन भर के लिए हो सकता है, इसके बिना यह कभी भी सक्रिय नहीं होता है और टीबी रोग में विकसित नहीं होता है।

हालांकि, टीबी सक्रिय हो सकता है यदि आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर हो जाती है और बैक्टीरिया को बढ़ने से नहीं रोक सकती है। यह तब होता है जब गुप्त टीबी संक्रमण सक्रिय टीबी हो जाता है। ऐसा होने से रोकने के लिए कई शोधकर्ता उपचार पर काम कर रहे हैं। 

टीबी के संकेत और लक्षण क्या हैं? What are the signs and symptoms of TB?

निष्क्रिय टीबी वाले लोगों में लक्षण दिखाई नहीं देते। हालांकि, उनके पास एक सकारात्मक त्वचा प्रतिक्रिया परीक्षण या रक्त परीक्षण हो सकता है। सक्रिय टीबी वाले लोगों में निम्न में से कोई भी लक्षण दिख सकते हैं :-

  1. खराब खांसी (दो सप्ताह से अधिक समय तक चलने वाली)।

  2. आपके सीने में दर्द। वजन घटना।

  3. ठंड लगना।

  4. बुखार।

  5. खांसी खून या थूक (बलगम)।

  6. थकान या कमजोरी।

  7. भूख में कमी।

  8. रात को पसीना। 

टीबी का क्या कारण है? What causes tuberculosis? 

क्षय रोग यानि टीबी माइकोबैक्टीरियम ट्यूबरकुलोसिस (Mycobacterium tuberculosis) जीवाणु के कारण होता है। रोगाणु हवा के माध्यम से फैलते हैं और आमतौर पर फेफड़ों को संक्रमित करते हैं, लेकिन शरीर के अन्य भागों को भी संक्रमित कर सकते हैं। हालांकि टीबी संक्रामक है, लेकिन यह आसानी से नहीं फैलता है। आपको आमतौर पर किसी ऐसे व्यक्ति के संपर्क में रहना पड़ता है जो इसे पकड़ने के लिए संक्रामक है।   

टीबी का निदान कैसे किया जाता है? How is TB diagnosed?

ट्यूबरकुलोसिस का निदान करने के दौरान डॉक्टर आपकी कई प्रकार से जाँच कर सकता है जिसमें शारीरिक जाँच सबसे पहले की जायगी। शारीरिक परीक्षा के दौरान, डॉक्टर लिम्फ नोड्स में आई सूजन की जाँच करेंगे और स्टेथोस्कोप का उपयोग करके आपके फेफड़ों द्वारा सांस लेने पर होने वाली आवाजों की जाँच करेंगे। 

टीबी के लिए सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला निदान उपकरण त्वचा परीक्षण (skin test) है, हालांकि रक्त परीक्षण (blood test) अधिक सामान्य होते जा रहे हैं। ट्यूबरकुलिन (tuberculin) नामक पदार्थ की एक छोटी मात्रा को आपके अग्रभाग (forearm) के अंदर की त्वचा के ठीक नीचे इंजेक्ट किया जाता है। 

48 से 72 घंटों के भीतर, एक जांचकर्ता इंजेक्शन स्थल पर सूजन देखने के लिए आपके हाथ की जांच करेगा। जांच के दौरान यदि एक सख्त, उभरी हुई लाल गांठ दिखाई देती है तो इसका मतलब है कि आपको टीबी संक्रमण होने की संभावना है। उभार का आकार निर्धारित करता है कि परीक्षण के परिणाम महत्वपूर्ण हैं या नहीं।

परिणाम गलत हो सकते हैं Results can be wrong 

टीबी के निदान के लिए त्वचा परीक्षण सही नहीं है। कभी-कभी, इस जांच में सामने आता है कि व्यक्ति को टीबी है, लेकिन ऐसा नहीं होता। वहीं, कई बार इसके विपरीत भी होता है।

यदि आपको हाल ही में बेसिल कैलमेट-गुएरिन (बीसीजी) वैक्सीन (bacille Calmette-Guerin (BCG) vaccine) का टीका लगाया गया है, तो आपको गलत-सकारात्मक परिणाम मिल सकते हैं। इस दौरान कई बार गलत-नकारात्मक परिणाम भी आ सकते हैं।

रक्त परीक्षण Blood tests

रक्त परीक्षण गुप्त या सक्रिय टीबी की पुष्टि कर भी सकते हैं और ना भी। ये परीक्षण टीबी बैक्टीरिया के प्रति आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली की प्रतिक्रिया को मापते हैं।

इन परीक्षणों के लिए केवल एक कार्यालय की यात्रा की आवश्यकता होती है। यदि आप टीबी संक्रमण के उच्च जोखिम में हैं, लेकिन त्वचा परीक्षण के प्रति नकारात्मक प्रतिक्रिया है, या यदि आपने हाल ही में बीसीजी वैक्सीन लिया है, तो रक्त परीक्षण उपयोगी हो सकता है।

इमेजिंग परीक्षण Imaging tests 

यदि आपका त्वचा परीक्षण सकारात्मक रहा है, तो आपके डॉक्टर द्वारा छाती का एक्स-रे या सीटी स्कैन कराने की संभावना है। यह आपके फेफड़ों में सफेद धब्बे दिखा सकता है जहां आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली ने टीबी बैक्टीरिया को बंद कर दिया है, या यह आपके फेफड़ों में सक्रिय तपेदिक के कारण होने वाले परिवर्तनों को प्रकट कर सकता है।

थूक परीक्षण Sputum tests 

यदि आपकी छाती के एक्स-रे में ट्यूबरकुलोसिस के लक्षण दिखाई देते हैं, तो आपका डॉक्टर आपके थूक के नमूने ले सकता है - वह बलगम जो आपको खांसी होने पर आता है। नमूनों का परीक्षण टीबी बैक्टीरिया के लिए किया जाता है। 

टीबी के दवा प्रतिरोधी उपभेदों के परीक्षण के लिए थूक के नमूनों का भी उपयोग किया जा सकता है। यह आपके डॉक्टर को उन दवाओं को चुनने में मदद करता है जिनके काम करने की सबसे अधिक संभावना है। इन परीक्षणों के परिणाम प्राप्त करने में चार से आठ सप्ताह लग सकते हैं। 

टीबी का इलाज कैसे किया जाता है? How is TB treated? 

यदि आपके पास गुप्त टीबी है, तो आपका डॉक्टर दवा के साथ उपचार की सिफारिश कर सकता है यदि आपको सक्रिय टीबी विकसित होने का उच्च जोखिम है। सक्रिय ट्यूबरकुलोसिस के लिए, आपको कम से कम छह से नौ महीने तक एंटीबायोटिक्स लेनी चाहिए। 

सटीक दवाएं और उपचार की अवधि आपकी उम्र, समग्र स्वास्थ्य, संभावित दवा प्रतिरोध और आपके शरीर में संक्रमण के स्थान पर निर्भर करती है।

सबसे आम टीबी की दवाएं Most common TB drugs 

यदि आपको गुप्त टीबी है, तो आपको केवल एक या दो प्रकार की टीबी की दवाएं लेने की आवश्यकता हो सकती है। सक्रिय टीबी, खासकर यदि यह एक दवा प्रतिरोधी तनाव है, तो एक साथ कई दवाओं की आवश्यकता होगी। टीबी के इलाज के लिए इस्तेमाल की जाने वाली सबसे आम दवाओं में शामिल हैं:

  1. आइसोनियाज़िड – Isoniazid

  2. रिफैम्पिन (रिफैडिन, रिमैक्टेन) – Rifampin (Rifadin, Rimactane) 

  3. एथंबुटोल (मायाम्बुटोल) – Ethambutol (Myambutol) 

  4. पायराज़ीनामाईड – Pyrazinamide 

यदि आपके पास दवा प्रतिरोधी टीबी है, तो फ्लूरोक्विनोलोन (fluoroquinolones) नामक एंटीबायोटिक दवाओं का संयोजन और इंजेक्शन योग्य दवाएं, जैसे कि एमिकासिन या कैप्रोमाइसिन (कैपास्टैट), आमतौर पर 20 से 30 महीनों के लिए उपयोग की जाती हैं। कुछ प्रकार के टीबी इन दवाओं के प्रति भी प्रतिरोध विकसित कर रहे हैं।

दवा प्रतिरोध का मुकाबला करने के लिए कुछ दवाओं को चिकित्सा में जोड़ा जा सकता है, जिनमें शामिल हैं:

  1. बेडाक्विलिन (सिर्टुरो) – Bedaquiline (Sirturo)

  2. लाइनज़ोलिड (Zyvox) – Linezolid (Zyvox) 

दवा के दुष्प्रभाव Medication side effects 

टीबी की दवाओं के गंभीर दुष्प्रभाव आम नहीं हैं, लेकिन जब वे होते हैं तो खतरनाक हो सकते हैं। तपेदिक की सभी दवाएं आपके लीवर के लिए जहरीली हो सकती हैं। इन दवाओं को लेते समय, निम्नलिखित में से कोई भी होने पर तुरंत अपने डॉक्टर को बुलाएं:  

  1. उलटी अथवा मितली

  2. भूख में कमी

  3. आपकी त्वचा का पीला रंग (पीलिया)

  4. गहरे रंग का मूत्र

  5. मामूली सी चोट के कारण ज्यादा खून बहना

  6. धुंधली दृष्टि

इलाज पूरा करना है जरूरी Completing treatment is essential 

कुछ हफ्तों के बाद, आप संक्रामक नहीं होंगे और आप बेहतर महसूस करना शुरू कर सकते हैं। अपनी टीबी की दवाएं लेना बंद न करें। आपको उपचार का पूरा कोर्स पूरा करना चाहिए और अपने डॉक्टर द्वारा बताई गई दवाओं को ठीक से लेना चाहिए।

उपचार को बहुत जल्दी रोक देना या खुराक न देना उन जीवाणुओं को उन दवाओं के प्रति प्रतिरोधी बनने की अनुमति दे सकता है, जो टीबी की ओर ले जाते हैं जो कि अधिक खतरनाक और इलाज के लिए कठिन होता है।

भारत में केंद्र सरकार और राज्य सरकारे अपने स्तर पर टीबी के लिए मुफ्त इलाज करवाती है जो कि आपके हर नजदीकी सरकारी अस्पताल और सरकारी  डिस्पेंसरी में मौजूद है। यदि आपको टीबी है तो तुरंत डॉक्टर से मिले और इसका इलाज करवाएं। आप चाहें तो टीबी के लिए निजी अस्पताल से भी अपना उपचार करवा सकते हैं। पूर्ण और सटीक इलाज से टीबी को जड़ से खत्म किया जा सकता है। यदि आपके आसपास कोई टीबी रोगी है तो उन्हें क्षीण दृष्टि से न देखते हुए उनकी हर संभव मदद करने की कोशिश करें और उनके मानसिक स्वास्थ्य को मजबूत बनाएं रखने की कोशिश करें। 

lung-disease
Logo

Medtalks is India's fastest growing Healthcare Learning and Patient Education Platform designed and developed to help doctors and other medical professionals to cater educational and training needs and to discover, discuss and learn the latest and best practices across 100+ medical specialties. Also find India Healthcare Latest Health News & Updates on the India Healthcare at Medtalks