10.10.236.5

कोरोना वायरस के भारत में 28 केस

कोरोना वायरस के भारत में 28 केस

भारत में अभी तक कोरोना वायरस के एक्के-दुक्के केस ही सामने आए थे लेकिन अभी-अभी एक ताज़ा अपडेट सामने आई है । इटली से भारत आए युवक के साथ जो 28 लोगों का समुह था उनमें से 15 लोगों में कोरोना पॉजीटीव पाया गया है । ये सभी लोग जयपुर में थे ।

अभी तक भारत में कोरोना वायरस के केस एक या दो व्यक्तियों में देखे गए लेकिन अब समुह में कोरना एक्टिव पाया गया है और इसका मतलब है कि अब कोरोना का वायरस कलस्टर में यानी बड़े पैमाने पर फैल गया है। इसी मामले के साथ कोरोना भारत में एक ‘सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल’ घोषित कर दिया गया है।

हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन(WHO) ने पहले ही इसका ऐलान कर दिया था । इटली से आए व्यक्ति और उसके संपर्क में जो भी लोग आए हैं, उन सभी लोगों को आइसोलेशन के लिए भेज दिया गया है । यह बेहद ज़रुरी था क्योंकि हो सकता है कि यह एक ‘सुपर स्प्रैडर’ हो क्योंकि अगर एक ही आदमी से यह वायरस 15 लोगों में फैल सकता है तो यह एक ‘सुपर स्प्रैडर’ ही है। जो लोग अभी सामन्य हालत यानि कोरोना पॉजीटीव लोगों के संपर्क में नहीं हैं उन्हें ग्रीन पेशेंट कहा जाता है ।

ग्रीन पेशेंट का मतलब है कि ये लोग दूसरे लोगों से कुछ दूरी बनाकर रखें, उनसे हाथ न मिलाएं, भीड़ वाली जगहों जैसे - पार्टी, बाजार आदि कम जाएं । 60 साल या इससे अधिक उम्र के लोग स्वंय का विशेष बचाव करें और याद रखें कि जब भी अपनी आखों को हाथ लगाएं तो अपने हाथों को ज़रुर धोएं ।

कोरोना नमस्ते !