गर्मी में पियें यह देसी डिटॉक्स ड्रिंक | Summer Detox Water for Weight loss

गर्मियों का मौसम आते ही गर्मी से राहत पाने के लिए और शरीर को ठंडक देने के लिए लोग तरह-तरह के तरीके अपनाने शुरू कर देते हैं। जैसे – ठंडा पानी, आइसक्रीम, कॉल्डड्रिंक्स, जूस और कहीं ठन्डे इलाके में घुमाई। इन सभी के अलावा भी आज कल डिटॉक्स ड्रिंक का चलन काफी बढ़ गया है। डिटॉक्स ड्रिंक न केवल आपके शरीर को अंदर से ठंडक देती बल्कि आपको कई शारीरिक फायदे भी प्रदान करती है। चलिए इस लेख के जरिये जानते हैं डिटॉक्स ड्रिंक क्या है और इन गर्मियों के मौसम में इससे हमारे शरीर को क्या-क्या फायदे मिल सकते हैं। 

डिटॉक्स ड्रिंक क्या है? What is a Detox Drink or Detox water?

डिटॉक्स ड्रिंक या डिटॉक्स वाटर ऐसी ताज़ा चीजों से बना एक ड्रिंक या पेय है जिससे हमारे शरीर में जमा विषाक्त तत्व यानि टॉक्सिंस शरीर से बाहर निकल जाते हैं और शरीर अंदर से साफ़ हो जाता है। इसके अलावा डिटॉक्स ड्रिंक शरीर में पानी की कमी नहीं होने देता जो कि गर्मियों के मौसम की सबसे बड़ी समस्या होती है। यह ड्रिंक हमारी बॉडी को किडनी की मदद से डिटॉक्स करते हैं। जब हम कोई भी डिटॉक्स ड्रिंक लेते हैं तो किडनी ब्लड साफ़ करने का काम शुरू कर देती है जिससे पेशाब ज्यादा बनता है और ब्लड प्रेशर भी काबू में आने लगता है। जब किडनी सामान्य से ज्यादा पेशाब ज्यादा बनाती है तो पेशाब के जरिये शरीर में जमा विषाक्त तत्व यानि टॉक्सिंस शरीर से बाहर निकल जाते हैं और मेटाबोलिज्म मजबूत होने लगता है। ऐसा नहीं है कि सादे पानी से किडनी ऐसा नहीं कर पाती! किडनी सादे पानी से भी यही काम करती है, लेकिन डिटॉक्स ड्रिंक ऐसी चीजों से बनता है जिसमें ज्यादा मात्रा में पानी होता है जिसकी वजह से लाजमी है कि पेशाब सामान्य से ज्यादा बनता है। उदहारण के लिए डिटॉक्स ड्रिंक बनाते हुए खीरे का इस्तेमाल होता है जिसमे 90 प्रतिशत तक पानी होता है। 

गर्मियों में हमें डिटॉक्स रहना क्यों जरूरी है? Why do we need to detox in summers?

गर्मियों के मौसम या जब भी हमारा शरीर गर्म होना शुरू होता है तो उस दौरान पसीना आना शुरू होता है जो कि गर्मियों के मौसम में बहुत ही आम सी बात है। जब गर्मियों के मौसम में बार-बार पसीना आता आता है इसकी वजह से शरीर में मौजूद जरूरी इलेक्ट्रोलाइट्स (electrolytes) कम होने लग जाते हैं और साथ ही शरीर में पानी की भी कमी होना शुरू हो जाती है। इलेक्ट्रोलाइट्स (electrolytes) हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी होते हैं, यह हमारे शरीर में सभी तरल उत्पादों में मौजूद होते हैं शरीर में पानी के संतुलन को बनाए रखने में मदद करते हैं। हमारे शरीर में पानी – रक्त, पेशाब, अस्थि मज्जा (bone marrow), टिश्यू आदि अंगों में होता है। 

अगर शरीर में पानी की कमी यानि इलेक्ट्रोलाइट्स की कमी होने लग जाए तो इसकी वजह से सबसे ज्यादा किडनी को नुकसान होना शुरू होता है, क्योंकि किडनी अपना सारा काम पानी से ही करती है। अगर शरीर में अचानक से पानी की कमी हो जाए तो किडनी सिकुडन से लेकर बहुत गंभीर समस्याएँ होना शुरू हो सकती है, जिसमे एक्यूट किडनी फेल्योर भी शामिल है। इसके अलावा व्यक्ति को निम्नलिखित समस्याएँ होने की संभवना बनी रहती है :-  

  • सुन्न होना

  • उलझन

  • दुर्बलता

  • अस्थि विकार

  • तंत्रिका तंत्र विकार

  • दिल की अनियमित धड़कन

  • मरोड़ और मांसपेशियों में ऐंठन

  • रक्तचाप में परिवर्तन

  • अत्यधिक थकान

  • आक्षेप convulsions

डिटॉक्स ड्रिंक से क्या-क्या फायदे मिल सकते हैं? What are the benefits of a detox drink?

अगर आप नियमित रूप से गर्मियों के मौसम में डिटॉक्स ड्रिंक लेते हैं तो इससे आपको निम्नलिखित फायदे मिल सकते हैं :- 

  1. वजन घटाने में मदद

  2. मूड में सुधार होना 

  3. ऊर्जा के स्तर में वृद्धि

  4. शरीर में जमा विषाक्त तत्वों में कमी

  5. शरीर पीएच लेवल संतुलित बने रहना 

  6. सामान्य से बेहतर पाचन स्वास्थ्य

  7. इम्यून सिस्टम मजबूत होना 

  8. त्वचा संबंधित समस्याओं से छुटकारा 

  9. शरीर के रंग में  सुधार होना

  10. शरीर में पानी की पूर्ति रहना 

अगर आप डिटॉक्स ड्रिंक को ज्यादा मात्रा में लेते हैं या शरीर की प्रकृति के विरुद्ध लेते हैं तो इससे आपको नुकसान भी हो सकते हैं। 

गर्मियों में लें ये डिटॉक्स ड्रिंक्स Take this detox drinks in summer

गर्मियों के मौसम में आप निम्न प्रकार के डिटॉक्स ड्रिंक ले सकते हैं :- 

खीरे का डिटॉक्स ड्रिंक Cucumber detox drink 

गामी का मौसम आते ही लोग खीरा खाना शुरू कर देते हैं, क्योंकि इसमें होता है पानी और इससे बॉडी रहती है लंबे समय तक हाइड्रेट। इस डिटॉक्स ड्रिंक को पीने से आपको खीरे में मौजूद सभी पौषक तत्व मिलते हैं और इसका सबसे बड़ा फायदा होता है कि इससे आपका वजन कम होना शुरू हो जाता है। खीरे के अंदर विटामिन बी, पोटेशियम और मैग्नीशियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो वेट लॉस में हमारी मदद कर सकते हैं। इसमें डिटॉक्सिफाइंग गुण होते हैं जिससे कैलोरी भी कम होती है। खीरे में पानी के साथ-साथ फाइबर भी काफी मात्रा में मिलता है जो कि आपको भूख कण्ट्रोल करने में भी मदद करता है। खीरे का डिटॉक्स ड्रिंक बनाने के लिए आप दो गिलास पानी में चार से पांच खीरे के टुकड़े दाल लें और साथ ही उसमे दो नींबू की स्लाइस और कुछ पुदीने के पत्ते भी डाल लें, लीजिये आपका डिटॉक्स ड्रिंक तैयार है। 

जीरा, धनिया और सौंफ का पानी Cumin, Coriander and Fennel Water 

अगर आपको लगता है कि यह मसालें – जीरा, धनिया और सौंफ केवल आपके खाने को ही स्वादिष्ट बनाने के काम आते हैं तो शायद आप गलत है। यह तीनों मसालें तासीर में ठंडे होते हैं इसलिए इनसे बना डिटॉक्स ड्रिंक आपके लिए बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है। जीरा चयापचय में सहायता के लिए बहुत अच्छा माना जाता है, धनिया विभिन्न प्रकार के खनिजों और विटामिनों से भरपूर होता है और सौंफ को हमारे शरीर और त्वचा को ठंडक देने का काम करता है।  

सेब दालचीनी डिटॉक्स वॉटर Apple cinnamon detox water 

अगर आप गर्मियों के मौसम में अपना वेट लोग करना चाहते हैं तो आपके लिए सेब और दालचीनी से बना डिटॉक्स वॉटर काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। सेब और दालचीनी से डिटॉक्स वॉटर बनाने के लिए सबसे पहले आप एक बर्तन में या बोतल में पानी डालें, फिर समें दालचीनी का करीब चार इंच का एक टुकड़ा और कुछ कटे हुए सेब डालें, ध्यान रहें सेब का छिलका हटा हुआ नहीं होना चाहिए। इस मिश्रण को 20 मिनट तक पानी में ही रहनें दे और इसके बाद आप इस ड्रिंक का सेवन करें। डिटॉक्स वाटर के फैट बर्निंग गुणों को बूस्ट करने के लिए आप इसमें एप्पल साइडर विनेगर ड्रिंक भी मिला सकते हैं। दालचीनी मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करती है और आपको लंबे समय तक भरा रखती है

नींबू और पुदीना डिटॉक्स वॉटर Lemon & mint detox water

गर्मी में नींबू का प्रयोग काफी ज्यादा किया जाता है। नींबू के जूस पीने से आप खुद को हाइड्रेट रख सकते हैं। यह वेट लॉस में तो मददगार है ही साथ ही स्किन के लिए भी इसके कई फायदे हैं। लेमन मिंट डिटॉक्स वॉटर बनाने के लिए नींबू पानी में कुछ पुदीने की पत्तियां मिलाएं और दिन भर इसका सेवन करते रहें। लेमन मिंट डिटॉक्स वाटर से आपकी पेट संबंधी समस्याएं भी दूर हो जाएंगी। 

नींबू और पुदीना और नारियल पानी से बना डिटॉक्स ड्रिंक Detox drink made with lemon and mint and coconut water 

नारियल पानी एक और गर्मियों में आवश्यक है जिसे हम भारतीय पसंद करते हैं – पुदीने की ताजगी के साथ तीखा नीबू का रस मिलाएँ और आपको अपने लिए एकदम सही समर कूलर मिल गया जो पाचन में मदद करेगा और प्रतिरक्षा को भी बढ़ाएगा। इस डिटॉक्स ड्रिंक बनाने के लिए आप सबसे पहले के एक गिलास नारियल पानी लें और उसमे आधा गिलास सादा पानी मिला लें और उसमें दो से तीन चम्मच नारियल को बारीक़-बारीक़ काट कर मिला लें।अब इसमें कुछ पुदीने के पत्ते, शहद और थोड़ा नींबू का रस मिला लें और लीजिये आपका नींबू और पुदीना और नारियल पानी से बना डिटॉक्स ड्रिंक तैयार है। आप इसे ऐसे भी ले सकते हैं या इसमें कुछ बर्फ भी दाल सकते हैं। 

आम का पन्ना Aam panna

गर्मियां आते ही आम भरपूर मात्रा में आने लगता है और आम से बनने वाली चीजों की भी काफी भरमार होने लगती है। आम से बनने वाली सबसे खास चीज़ है आम पन्ना जो कि सदियों से भारत में बनाई जाती रही है। आम पन्ना हमारे शरीर को अंदर से ठंडक देने का काम करता है और साथ ही शरीर में पानी की कमी नहीं होने देता। आम पन्ना बनाने के लिए सबसे पहले कच्चे आम को आग में भुना जाता है या फिर उसे उबाला जाता है। इसके बाद उबले या भुने हुए आम को पानी में डालकर उसमे पुदीना, काला नमक, शक्कर, भुना पिसा जीरा आदि मिलाकर इस ड्रिंक तैयार कर लिया जाता है, जिसे आम पन्ना कहा जाता है। यह आम पन्ना गर्मियों के मौसम से शरीर को लू से बचाने में अहम् भूमिका ऐडा करता है।  इतना ही नहीं जो लोग उच्च रक्तचाप, मधुमेह और दिल से जुड़ी बिमारियों से जूझ रहे हैं उनके लिए भी यह काफी फायदेमंद है। 

पुदीना शर्बत Mint syrup

गर्मियों के मौसम में पुदीने का भरपूर इस्तेमाल किया जाता है अब वो चाहे इससे बनी कोई चटपटी ड्रिंक हो या फिर चटनी। लेकिन क्या आपको पता है कि पुदीने से बना शर्बत हमारी बॉडी के लिए गर्मियों में कितना फायदेमंद होता है। यह शर्बत हमें गर्मियों के मौसम में लू से बचाता है, बुखार, उलटी, गैस और बाकी पेट से जुड़ी समस्याओं से भी बचाता है।  इसे बनाने के लिए पुदीने की 10-12 पत्तियां एक गिलास पानी में पीसें और इसमें भुना हुआ जीरा, काला नमक और शक्कर मिलाकर शर्बत तैयार करें। जीरा की बजाय पुदीने के साथ एक छोटा चम्मच सौंफ पीसकर भी पुदीने के शर्बत का एक अलग स्वाद तैयार कर सकते हैं।

गन्ने का रस sugarcane juice

गर्मियों के मौसम में गन्ने का रस काफी मात्रा में पिया जाता है। यह न केवल हमें ठंडक देता हैं बल्कि शरीर में जमा सभी विषाक्त तत्वों को बाहर निकालने में भी मदद करता है। अगर आप गन्ने का रस पीते हैं या गन्ना खाते हैं तो इससे लीवर से जुड़ी समस्याएँ दूर होने लगती है और आपका लीवर स्वस्थ हो जाता है। इसकी मदद से शरीर में ग्लूकोज लेवल स्वस्थ बना रहता है और गर्मियों में होने वाली अचानक बेहोशी नहीं होती। 

छाछ buttermilk 

गर्मी का मौसम हो और भला कोई छाछ से दूरी कैसे बना सकता है। छाछ एक तरह का पेय है जो कि दही से मक्खन निकालने के बाद बनता है, जिसे सीत, मट्ठा और छाय आदि के नाम से भी जाना जाता है। छाछ को सभी लोग अपनी तरह से लेना पसंद करते हैं, लेकिन इसे लेने का सबसे अच्छा तरीका होता है इसमें भुना हुआ जीरा पाउडर, पुदीना पाउडर, काला नमक, हींग आदि मिला कर यह पहले से भी ज्यादा स्वादिष्ट हो जाती है। छाछ को खाने के साथ-साथ लिया जा सकता है। यह खाने को आसानी से पचाती है। आयुर्वेद की दृष्टि से छाछ को काफी लाभप्रद माना गया है। यह आंतों को संक्रमण से बचाती है और अल्सर जैसी बीमारियां नहीं होने देती। छाछ के बारे में यह जरूर ध्यान में रखना चाहिए कि इसे रात के समय नहीं पीना चाहिए। रात में छाछ पीने से कफ की समस्या हो सकती है।

खीरा और कीवी से बना डिटॉक्स ड्रिंक Cucumber and Kiwi Detox Drink

खीरा हमेशा से हमारे गर्मियों के आहार का एक हिस्सा रहा है क्योंकि इसमें पानी की मात्रा अधिक होती है और शरीर को ठंडा रखने की क्षमता होती है। इसमें कीवी के मीठे फ्लेवर मिलाएं और आपके पास एक जीवंत हरी स्वादिष्ट डिटॉक्स ड्रिंक है, जो एक ड्रेनिंग वर्कआउट के बाद आपको वापस ट्रैक पर लाने के लिए एकदम सही है। इस डिटॉक्स ड्रिंक को बनाने के लिए खीरा और कीवी को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें और एक घंटे के लिए फ्रिज में रख दें। अब, उन्हें बाहर निकाले और क्रश कर लें, इसके बाद बर्फ और पानी के साथ उनका रस निकाल लें। रस में अदरक भी मिलाया जा सकता है ताकि ड्रिंक में एक स्वादिष्ट, जोशीला ट्विस्ट आ सके। स्प्राउट्स से गार्निश करें और जूस में सेलेरी स्टिक्स डालकर चलाएं।

गर्मियों के मौसम में कॉल्ड ड्रिंक से रहें सावधान! Be careful with cold drinks in the summer season! 

जैसे ही गामीयों का मौसम आता है वैसे ही बाज़ार में बहुत सारे कॉल्ड ड्रिंक आने लग जाते हैं और लोग भी उन्हें बहुत ही चाव से खरीदना पसंद करते हैं। इन कॉल्ड ड्रिंक्स की सबसे बड़ी बात यह होती है कि इनसे बहुत तेजी से ठंडक मिलती है और इन्हें पीने के लिए मेहनत नहीं करनी पड़ती, बस ढक्कन खोलो और गिलास में दाल कर पी जाओ। लेकिन क्या आपको पता है कि इन कॉल्ड ड्रिंक्स की वजह से आपको कितने सारे शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। 

आपको जानकारी हैरानी होगी कि अगर लगातार और लंबे समय तक कॉल्ड ड्रिंक्स का सेवन किया जाए तो इसकी वजह से जान तक भी जा सकती है, क्योंकि इन्हें बनाने के लिए बहुत सारे कैमिकल्स का इस्तेमाल किया जाता है। जब आप बाज़ार में मिलने वाले कॉल्ड ड्रिंक को पीते है तो इससे आपको तुरंत ठंडक मिलती है लेकिन इसके बाद आपके शरीर का तापमान अचानक से बढ़ने लग जाता है, जिसकी वजह से ब्लड प्रेशर और अचानक से बेहोशी तक की भी समस्या होने की आशंका बनी रहती है। अगर आप लगातार कॉल्ड ड्रिंक का सेवन करते हैं तो इसकी वजह से आपकी हड्डियाँ कमजोर होना शुरू हो जाती है और इसके आलावा आपको डायबिटीज, कैंसर, गैस्ट्रिक अल्सर, दांतों की खराबी, लिवर रोग जैसी अनेक बीमारियों का खतरा बना रहता है। 

इसलिए हम आपको सलाह देंगे कि आप गर्मियों में घर पर बने ही कॉल्ड ड्रिंक्स का इस्तेमाल करें और बेहतर होगा कि आप ऊपर बताए गये डिटॉक्स ड्रिंक को अपनाएं।

Get our Newsletter

Filter out the noise and nurture your inbox with health and wellness advice that's inclusive and rooted in medical expertise.

Your privacy is important to us

MEDICAL AFFAIRS

CONTENT INTEGRITY

NEWSLETTERS

© 2022 Medtalks