Importance of Vitamin D in COVID

Importance of Vitamin D in COVID

Elderly may have immune deficiency; their cellular immunity may be low. When they step out, they need the three natural vaccines (masking, hand hygiene and Physical distancing) for staying protected from Coronavirus infection. All children should be fully vaccinated and follow all the precautions. 
Everyone should indulge in lung rehabilitative exercises. In this video, Dr K K Aggarwal talks about these exercises in detail. Vitamin D is an immunomodulator, and it also upregulates the ACE2 receptors.  Its deficiency may affect natural lung protection.Watch this video to know practical tips to monitor your health and the importance of Vitamin D in preventing COVID-19. 

  1. Translation  In Hindi 
  2. Translation In Tamil
  3. Translation In Marathi
  4. Translation In Punjabi 
  5. Translation In  Malayalam
  6. Translation In Oriya 
  7. Translation In Bengali
  8. Translation In Gujrati
  9. Translation In Kannada
  10. Translation in telugu 

Translation  In Hindi 

 मैं हार्ट केयर फांउडेशन ऑफ इंडिया की तरफ से आपका स्वागत  करता हूं ।  यदि आपके परिवार में कोई 60 की उम्र से अधिक है हमें उनकी विशेष देखभाल करनी चाहिए । उनमें इम्यूनिटी की कमी हो सकती है । सेलुलर इम्यूनिटी की कमी हो सकती हैं ।हमें उनकी मास्किंग करनी है, उन्हें सर्जिकल मास्क देने की आवश्यकता है ।जब वे बाहर जाएं तो यह देख लें कि उनके पास सुरक्षा के तीनों विकल्प मौजूद  हों । यानि मास्क, स्वच्छ हाथ और शारीरिक दूरी ।

घर पर छोटे बच्चे या नाती-पोते है और घर में मीटिंग होती है तो बच्चे बड़ों के पास आते ही हैं , ऐसे में उन्हें भी मास्क पहनना चाहिए और शारीरिक दूरी बनाई रखनी चाहिए ।हमें इस बात की कोशिश करनी है कि संभव हो के उन्हें निमोनिया, फ्लू के टीके लगाए गए हों । इसके अलावा टेटनस और हेपेटाइटिस - बी |

यह भी देखना चाहिए कि पर्याप्त मात्रा में पौष्टिक आहार लें,  ताकि उनकी इम्यूनिटी बनी रहे । इसके अलावा कि आप 60 साल से अधिक या 60 से कम हैं, आपको फेफड़ों को मज़बूत बनाने वाली एक्सरसाइज़ करनी चाहिए ।जैसे, दिन में 6 मिनट तक टहलना और कितनी दूरी तय की है, उसकी जांच करना । यदि यह 200 मीटर से कम है, तो अपने डॉक्टर से बात करें ।

6 मिनट तक पैदल चलने से आपका फॉल गिरना नहीं चाहिए, आपको एक पीक फ्लो मीटर खरीदना चाहिए और अपनी व्यक्तिगत जांच करनी चाहिए क्योंकि यदि आपको निमोनिया या कोवि़ड -19  है, तो हमें यह पता लगाना होगा कि आपके फेफड़ों में सुधार हो रहा है या नहीं ।
आप अपने पेट के बल सोना शुरू कर दें, ताकि अगर आपको निमोनिया हो जाए, तो आपके पीछे के फेफड़े खुल जाएं। यह वह क्षेत्र है जहां कोविड -19 में फेफड़े संक्रमित होते हैं ।  इसके अलावा, आपको एक गुब्बारे का उपयोग करना होगा और इसे 3 बार फुलाना होगा ।एक बार, दो बार और ये तीन बार । 

यदि आप इसे तीन बार फुलाते हैं, तो यह जान लें कि आपकी फेफड़ों की क्षमता अच्छी है और आप किसी भी प्रकार के निमोनिया का सामना कर सकते हैं । जाहिर है, आप यह पाएंगे कि जिस उम्र में आपको विटामिन-डी की कमी हैं, यह उससे संबंधित नहीं हैं ।क्योंकि अगर आपको विटामिन - डी की कमी हैं, तो विटामिन डी इम्यूनोमॉड्यूलेटरी है। विटामिन - डी रिसेप्टर्स के लिए क्षमा को बढ़ाता है । यदि शरीर में विटामिन - डी की कमी है, तो फेफड़ों की नेचुरल सुरक्षा  क्षमता चली जाती है ।अपने हाइपर टेंशन को नियंत्रित करें , क्योंकि इसमें एंजियोटेंसिन की मात्रा बहुत अधिकता होती है । विटामिन - डी आपके नासोफेरील प्रोटेक्टिव मैकानिज़्म  और कोशिकाओं में प्रवेश करने वाले वायरस के लेवल  पर भी मदद करता है ।

इसलिए, विटामिन - डी सुरक्षात्मक है अगर कोविड से पहले लिया जाता है । कोविड के दौरान, 3 दिनों के लिए विटामिन डी का हाइड्रोस, घटना वाले हिस्से में मदद कर सकता है और कोविड बीमारी को रोकने के लिए 3 से 6 महीने तक कोविड के बाद, आपको निरंतर विटामिनडी की आवश्यकता होती है, तो इस बात का विशेष ध्यान रखें कि इस महामारी के युग में, आपको विटामिन डी की कमी न हो । 

Translation in Tamil 

இந்தியாவின் ஹார்ட் கேர் பவுண்டேஷன் சார்பாக, உங்களை வரவேற்கிறேன். உங்கள் குடும்பத்தில் 60 வயதுக்கு மேற்பட்டவர்கள் யாராவது உள்ளார்களாநாம் அவர்கள் மீது  சிறப்பான கவனம் செலுத்த வேண்டும்.அவர்களுக்கு நோய் எதிர்ப்பு சக்தி குறைவாக இருக்கலாம்.செல்லுலார் நோய் எதிர்ப்பு சக்தி குறைவு ஏற்படலாம்.

நாம் அவர்களை முகமூடிகளைப் பயன்படுத்த  அறிவுறுத்த  வேண்டும், அவர்களுக்கு அறுவை சிகிச்சை முகமூடி வழங்கப்பட வேண்டும்.அவர்கள் வெளியே செல்லும்போது, அவர்களுக்கு மூன்று பாதுகாப்பு அரண்கள் இருப்பதைப் உறுதிப்படுத்துங்கள். அதாவது, முகமூடி, சுத்தமான கைகள் மற்றும் உடல் தூரம்.

வீட்டில் சிறிய குழந்தைகள் அல்லது பேரக்குழந்தைகள் இருந்தால், வீட்டில் அனைவரும் ஒன்றுகூடும் நிகழ்வு என்றால், குழந்தைகள் பெரியவர்களின் அருகில் வரும்பொழுது, அவர்களும் முகமூடி அணிந்து உடல் தூரத்தை பராமரிக்க வேண்டும்.

குழந்தைகளுக்கு நிமோனியா மற்றும் காய்ச்சல் தடுப்பூசிகள் வழங்கப்பட்டுள்ளதா என்பதை உறுதிப்படுத்த வேண்டும் டெட்டனஸ் மற்றும் ஹெபடைடிஸ் - பி. சத்தான உணவு பொருட்கள் போதுமான அளவு உட்கொள்ளப்படுவதால் நோய் எதிர்ப்பு சக்தி அதிகரிக்கும் எனவே அதன் அளவை காண வேண்டும். நீங்கள் 60 வயதுக்கு மேற்பட்டவராக அல்லது 60 வயதிற்குட்பட்டவராக இருந்தாலும், நுரையீரலை வலுப்படுத்தும் பயிற்சிகளை செய்ய வேண்டும்.உதாரணமாக, ஒரு நாளில் 6 நிமிடங்கள் நடத்தல் வேண்டும், மேலும் அதன் தூரத்தை சரிபார்க்கவும். இது 200 மீட்டருக்கும் குறைவாக இருந்தால், உங்கள் மருத்துவரை சந்தித்து கலந்துரையாடலாம்.

6 நிமிட நடைப்பயிற்சி உங்களை சோர்வடையவைக்க கூடாது, நீங்கள் உச்ச ஓட்ட மீட்டரை வாங்கி உங்கள் தனிப்பட்ட சோதனையை  செய்ய வேண்டும், ஏனெனில் உங்களுக்கு நிமோனியா அல்லது கோவிட் -19 இருந்தால், உங்கள் நுரையீரல் மேம்படுகிறதா இல்லையா என்பதை நாங்கள் அறிய வேண்டும்.

உங்களுக்கு நிமோனியா வந்தால் நீங்கள் உங்கள் வயிற்றில் தூங்கத் தொடங்குவீர்கள், இதனால் , உங்கள் பின்னால் உள்ள நுரையீரல் திறக்கும். கோவிட் -19 இல் நுரையீரல் தொற்று ஏற்படும் பகுதி இது.மேலும், நீங்கள் ஒரு பலூனை எடுத்து 3 முறை ஊத வேண்டும்.ஒரு முறை, இரண்டு முறை, மூன்று முறை. 

நீங்கள் அதை மூன்று முறை ஊ தினால், உங்கள் நுரையீரல் திறன் நன்றாக இருக்கிறது என்பதை அறிந்து கொள்ளலாம், மேலும் நீங்கள் எந்த வகையான நிமோனியாவையும் எதிர்கொள்ளலாம்.மேலும் தெளிவாகிறது, நீங்கள் வைட்டமின்-டி குறைபாடுள்ள வயதில் இருப்பதைக் உணர்வீர்கள், இது அதனுடன் தொடர்புடையது அல்ல.

ஏனெனில் நீங்கள் வைட்டமின்-டி குறைபாடுடையவராக இருந்தால், வைட்டமின் டி இம்யூனோமோடூலேட்டரி ஆகும். வைட்டமின் டி ஏற்பிகளின் திறனை மேம்படுத்துகிறது.
உடலில் வைட்டமின் டி குறைபாடு ஏற்பட்டால் , நுரையீரலின் இயற்கையான பாதுகாப்பு திறன் இழக்கப்படும்.உங்கள் ஹைப்பர் டென்ஷனைக் கட்டுப்படுத்துங்கள், ஏனெனில் அதில் ஆஞ்சியோடென்சின் மிக அதிக அளவு உள்ளதுவைட்டமின்-டி உங்கள் நாசோபரில் பாதுகாப்பு பொறிமுறையையும் உயிரணுக்களில் நுழையும் வைரஸ்களின் அளவையும் குறைக்க  உதவுகிறது.।எனவே,வைட்டமின்-டி கோவிட்டுக்கு முன் எடுத்துக் கொள்ளப்பட்டால் பாதுகாப்பானதாகும்.கோவிட்டின் போது, 3 நாட்களுக்கு வைட்டமின் டி

ஹைட்ரோக்கள் எடுத்துக்கொள்வதால்  3 முதல் 6 மாதங்களுக்கு கோவிட் நோயைத் தடுக்க உதவும். கோவிட்டுக்கு பின் , உங்களுக்கு தொடர்ச்சியான வைட்டமின் டி தேவை இருக்கும். எனவே இந்த தொற்றுநோய் காலத்தில், உங்கள் உடலில்  வைட்டமின் டி குறைபாடு ஏற்படக்கூடாது  என்பதை நினைவில் கொள்ளுங்கள்.

Translation in Marathi 

मी, हार्ट कैर फांउडेशन ऑफ इंडियाच्या भेटीचे आपले स्वागत आहे.आपल्या कुटुंबातील कोणी 60 वर्षांपेक्षा जास्त असेलआपण त्यांची विशेष काळजी घेतली पाहिजे. त्यांचे रोग प्रतिकार शक्ती कमी असू शकतेसेल्युलर प्रतिकार शक्ती कमी हुशकतॆवापरायचा अभ्यास करावेलागेल, त्यांना सर्जिकल मास्क देण्याची आवश्यकता आहे जेव्हा ते बाहेर जातात तेव्हा पहा की त्यांच्याकडे तीन सुरक्षा पर्याय आहेत. म्हणजे, मास्क, स्वच्छ हात आणि शारीरिक अंतर जर घरात लहान मुले किंवा नातवंडे असतील आणि घरी एकत्र जमले असेल तर जेव्हा मुले मोठे जवळ येतात तेव्हा त्यांनी मास्क घालावे आणि शारीरिक अंतर ठेवले पाहिजेमुलांना न्यूमोनिया आणि फ्लूची इंजेकशन दिली गेली पाहिजे हे सुनिश्चित करण्यासाठी आपण प्रयत्न केले पाहिजेततसेच टिटॅनस आणि हिपॅटायटीस - बी.

हे देखील पाहिजे की पौष्टिक आहार पुरेशी प्रमाणात सेवन केले जाते ताकी त्यांची प्रतिकार शक्ती कायम राहीली आपले वय 60 वर्षांपेक्षा जास्त किंवा 60 वर्षांपेक्षा कमी असले तरी, आपण लंग्स मजबूत करणारे व्यायाम केले पाहिजे उदाहरणाथ, एका दिवसात 6 मिनिटे चालणे आणि चालेल अंतर तपासणे.जर हे 200 मीटरपेक्षा कमी असेल तर आपल्या डॉक्टरांशी बोला.6 मिनिट चालण्याने तुम्हाला थकवा येऊ नये, तुम्ही पीक फ्लो मीटर विकत घ्यावेत व तुमची वैयक्तिक तपासणी केली पाहिजे कारण तुम्हाला निमोनिया किंवा कोविड -19 असलेतर आपल्या लंग्स सुधारणा होत आहे की नाही हे शोधण्याची गरज आहे.

आपण आपल्या पोटावर झोपायला सुरु करा, जेणेकरुन तुम्हाला निमोनिया झाला तर तुमच्यामागील लंग्स उघडतात. कोविड -19 मध्ये हा जाग्यात लंग्सचा भाग संसर्ग झाला आहेतसेच, आपल्याला एक बलून घ्याव लागेल आणि त्याला 3 वेळा फुगवावे.एकदा, दोनदा, आणि तीन वेळा.जर आपण त्याला तीनदा फुगवले तर हे जाणून घ्या की आपल्या लंग्सची क्षमता चांगली आहे आणि आपण कोणत्याही प्रकारचे निमोनियाचा सामना करू शकताहे स्पष्ट आहे, आपल्याला कळते कि ज्या वयात आपण व्हिटॅमिन-डी ची कमतरता आहात, त्या वयेशी संबंधित नाहीकारण आपण विटामिन-डी ची कमतरता असल्या तर, विटामिन डी इम्म्युनोमोडूलेटोरी आहे. विटामिन डी रिसेप्टर्सची क्षमता वाढवते जर शरीरात विटामिन डी ची कमतरता असेल तर लंग्सांची नैसर्गिक संरक्षण क्षमता गमावली. 

आपला हायपर टेन्शन नियंत्रित करा, कारण त्यात ऍंजिओटेन्सिन ची मात्रा खूप जास्त आहे.विटामिन-डी आपल्या नॅसॉफ़्रील संरक्षणात्मक यंत्रणा आणि सेल्समध्ये प्रवेश करणार्या व्हायरसच्या पातळीस देखील मदत करते.म्हणून, कोविडच्या आधी घेतल्यास विटामिन-डी संरक्षणात्मक आहे.कोविड दरम्यान, 3 दिवस विटामिन डी ची हायड्रोस घटनेच्या भागामध्ये 3 ते 6 महिन्यांपर्यंत कोविड रोगास प्रतिबंधित करते. कोविड नंतर, आपल्याला सतत विटामिन डी आवश्यक आहे, तर हे लक्षात ठेवा की या एपिडेमिक च्या युगात, आपल्याला विटामिन डी ची कमतरता असू नये.

Translation in Punjabi 

ਹਾਰਟ ਕੇਅਰ ਫਾਉਂਡੇਸ਼ਨ ਆਫ ਇੰਡੀਆ ਦੀ ਤਰਫੋਂ, ਮੈਂ ਤੁਹਾਡਾ ਸਵਾਗਤ ਕਰਦਾ ਹਾਂ। ਜੇ ਤੁਹਾਡੇ ਪਰਿਵਾਰ ਵਿਚ ਕੋਈ ੬੦ ਸਾਲਾਂ ਤੋਂ ਉੱਪਰ ਹੈ। ਸਾਨੂੰ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦਾ ਵਿਸ਼ੇਸ਼ ਧਿਆਨ ਰੱਖਣਾ ਚਾਹੀਦਾ ਹੈ।  ਉਹਨਾਂ ਵਿਚ ਛੋਟ ਦੀ ਘਾਟ ਹੋ ਸਕਦੀ ਹੈ। ਸੈਲਿ .ਲਰ ਪ੍ਰਤੀਰੋਧੀਤਾ ਦੀ ਘਾਟ ਹੋ ਸਕਦੀ ਹੈ।
ਸਾਨੂੰ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਮਾਸਕ ਦੀ ਵਰਤੋਂ ਕਰਨਾ ਹੈ, ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਇਕ ਸਰਜੀਕਲ ਮਾਸਕ ਦੇਣ ਦੀ ਜ਼ਰੂਰਤ ਹੈ. ਜਦੋਂ ਉਹ ਬਾਹਰ ਜਾਂਦੇ ਹਨ, ਵੇਖੋ ਕਿ ਉਨ੍ਹਾਂ ਕੋਲ ਸੁਰੱਖਿਆ ਦੇ ਸਾਰੇ ਤਿੰਨ ਵਿਕਲਪ ਹਨ. ਇਹ ਹੈ, ਮਾਸਕ, ਸਾਫ ਹੱਥ ਅਤੇ ਸਰੀਰਕ ਦੂਰੀ।

ਜੇ ਘਰ ਵਿਚ ਛੋਟੇ ਬੱਚੇ ਜਾਂ ਪੋਤੇ-ਪੋਤੀਆਂ ਹਨ ਅਤੇ ਘਰ ਵਿਚ ਇਕੱਠੇ ਹੋਣਾ ਹੈ, ਤਾਂ, ਜਦੋਂ ਬੱਚੇ ਬਜ਼ੁਰਗਾਂ ਦੇ ਨੇੜੇ ਆਉਂਦੇ ਹਨ, ਤਾਂ ਉਨ੍ਹਾਂ ਨੂੰ ਮਾਸਕ ਵੀ ਪਹਿਨਣੇ ਚਾਹੀਦੇ ਹਨ ਅਤੇ ਸਰੀਰਕ ਦੂਰੀ ਬਣਾਈ ਰੱਖਣੀ ਚਾਹੀਦੀ ਹੈ। ਸਾਨੂੰ ਇਹ ਸੁਨਿਸ਼ਚਿਤ ਕਰਨ ਦੀ ਕੋਸ਼ਿਸ਼ ਕਰਨੀ ਪਏਗੀ ਕਿ ਬੱਚਿਆਂ ਨੂੰ ਨਮੂਨੀਆ ਅਤੇ ਫਲੂ ਦੇ ਟੀਕੇ ਲਗਵਾਏ ਗਏ ਹਨ। ਟੈਟਨਸ ਅਤੇ ਹੈਪੇਟਾਈਟਸ ਵੀ – ਬੀ। ਇਹ ਵੀ ਵੇਖਿਆ ਜਾਣਾ ਚਾਹੀਦਾ ਹੈ ਕਿ ਪੌਸ਼ਟਿਕ ਭੋਜਨ ਕਾਫ਼ੀ ਮਾਤਰਾ ਵਿੱਚ ਖਾਧਾ ਜਾਂਦਾ ਹੈ ਤਾਂ ਜੋ ਉਨ੍ਹਾਂ ਦੀ ਇਮਿ .ਨਟੀ ਬਣੀ ਰਹੇ।

ਇਸ ਤੋਂ ਇਲਾਵਾ ਭਾਵੇਂ ਤੁਸੀਂ ੬੦ ਸਾਲ ਤੋਂ ਵੱਧ ਉਮਰ ਦੇ ਹੋ ਜਾਂ ੬੦ ਸਾਲ ਤੋਂ ਘੱਟ, ਤੁਹਾਨੂੰ ਕਸਰਤ ਕਰਨੀ ਚਾਹੀਦੀ ਹੈ ਜੋ ਫੇਫੜਿਆਂ ਨੂੰ ਮਜ਼ਬੂਤ ਕਰਦੇ ਹਨ। ਉਦਾਹਰਣ ਦੇ ਲਈ, ਇੱਕ ਦਿਨ ਵਿੱਚ ੬ ਮਿੰਟ ਲਈ ਤੁਰਨਾ ਅਤੇ  ਦੂਰੀਆਂ ਦੀ ਜਾਂਚ ਕਰਨਾ। ਜੇ ਇਹ ੨੦੦ ਮੀਟਰ ਤੋਂ ਘੱਟ ਹੈ, ਆਪਣੇ ਡਾਕਟਰ ਨਾਲ ਗੱਲ ਕਰੋ।੬ ਮਿੰਟ ਤੁਰਨ ਨਾਲ ਤੁਹਾਨੂੰ ਥੱਕਣ ਦੀ ਭਾਵਨਾ ਨਹੀਂ ਹੋਣੀ ਚਾਹੀਦੀ, ਤੁਹਾਨੂੰ ਇਕ ਚੋਟੀ ਦਾ ਪ੍ਰਵਾਹ ਮੀਟਰ ਖਰੀਦਣਾ ਚਾਹੀਦਾ ਹੈ ਅਤੇ ਆਪਣੀ ਨਿਜੀ ਜਾਂਚ ਕਰਨੀ ਚਾਹੀਦੀ ਹੈ ਕਿਉਂਕਿ ਜੇ ਤੁਹਾਨੂੰ ਨਮੂਨੀਆ ਜਾਂ ਕੋਵਿਡ -੧੯ ਹੈ, ਤਾਂ ਸਾਨੂੰ ਇਹ ਪਤਾ ਲਗਾਉਣ ਦੀ ਜ਼ਰੂਰਤ ਹੈ ਕਿ ਤੁਹਾਡੇ ਫੇਫੜਿਆਂ ਵਿਚ ਸੁਧਾਰ ਹੋ ਰਿਹਾ ਹੈ ਜਾਂ ਨਹੀਂ।

ਤੁਸੀਂ ਆਪਣੇ ਪੇਟ 'ਤੇ ਸੌਣਾ ਸ਼ੁਰੂ ਕਰਦੇ ਹੋ, ਤਾਂ ਜੋ ਤੁਹਾਨੂੰ ਨਮੂਨੀਆ ਹੋ ਜਾਵੇ, ਤਾਂ ਤੁਹਾਡੇ ਪਿੱਛੇ ਫੇਫੜੇ ਖੁੱਲ੍ਹ ਜਾਣਗੇ. ਇਹ ਉਹ ਖੇਤਰ ਹੈ ਜਿਥੇ ਕੋਵਿਡ -੧੯ ਵਿੱਚ ਫੇਫੜਿਆਂ ਦੀ ਲਾਗ ਹੁੰਦੀ ਹੈ।ਨਾਲ ਹੀ, ਤੁਹਾਨੂੰ ਇਕ ਗੁਬਾਰਾ ਲੈ ਕੇ ਇਸ ਨੂੰ ੩ ਵਾਰ ਫੁੱਲ ਦੇਣਾ ਚਾਹੀਦਾ ਹੈ।ਇਕ ਵਾਰ, ਦੋ ਵਾਰ, ਅਤੇ ਤਿੰਨ ਵਾਰ।

 ਜੇ ਤੁਸੀਂ ਇਸ ਨੂੰ ਤਿੰਨ ਵਾਰ ਪ੍ਰਫੁੱਲਤ ਕਰਦੇ ਹੋ, ਤਾਂ ਇਹ ਜਾਣੋ ਕਿ ਤੁਹਾਡੀ ਫੇਫੜਿਆਂ ਦੀ ਸਮਰੱਥਾ ਚੰਗੀ ਹੈ ਅਤੇ ਤੁਸੀਂ ਕਿਸੇ ਵੀ ਕਿਸਮ ਦੇ ਨਮੂਨੀਆ ਦਾ ਸਾਹਮਣਾ ਕਰ ਸਕਦੇ ਹੋ।ਇਹ ਸਪੱਸ਼ਟ ਹੈ, ਤੁਸੀਂ ਦੇਖੋਗੇ ਕਿ ਜਿਸ ਉਮਰ ਵਿਚ ਤੁਸੀਂ ਵਿਟਾਮਿਨ-ਡੀ ਦੀ ਘਾਟ ਹੋ, ਇਹ ਉਸ ਨਾਲ ਸਬੰਧਤ ਨਹੀਂ ਹੈ। ਕਿਉਂਕਿ ਜੇ ਤੁਸੀਂ ਵਿਟਾਮਿਨ-ਡੀ ਦੀ ਘਾਟ ਹੋ, ਵਿਟਾਮਿਨ ਡੀ ਇਮਿਨੋਮੋਡੂਲੇਟਰੀ ਹੈ. ਵਿਟਾਮਿਨ ਡੀ ਰੀਸੈਪਟਰਾਂ ਦੀ ਸਮਰੱਥਾ ਨੂੰ ਵਧਾਉਂਦਾ ਹੈ। ਜੇ ਸਰੀਰ ਵਿਚ ਵਿਟਾਮਿਨ ਡੀ ਦੀ ਘਾਟ ਹੈ, ਤਾਂ ਫੇਫੜਿਆਂ ਦੀ ਕੁਦਰਤੀ ਸੁਰੱਖਿਆ ਸਮਰੱਥਾ ਖਤਮ ਹੋ ਜਾਂਦੀ ਹੈ। ਆਪਣੀ ਹਾਈਪਰਟੈਨਸ਼ਨ ਨੂੰ ਕੰਟਰੋਲ ਕਰੋ, ਕਿਉਂਕਿ ਇਸ ਵਿਚ ਐਂਜੀਓਟੈਨਸਿਨ ਦੀ ਬਹੁਤ ਜ਼ਿਆਦਾ ਮਾਤਰਾ ਹੁੰਦੀ ਹੈ। ਵਿਟਾਮਿਨ- ਡੀ ਤੁਹਾਡੇ ਨਸੋਫੈਰਿਲ ਸੁਰੱਖਿਆਤਮਕ ਵਿਧੀ ਅਤੇ ਸੈੱਲਾਂ ਵਿਚ ਦਾਖਲ ਹੋਣ ਵਾਲੇ ਵਾਇਰਸਾਂ ਦੇ ਪੱਧਰ ਵਿਚ ਵੀ ਸਹਾਇਤਾ ਕਰਦਾ ਹੈ। ਇਸ ਲਈ, ਜੇ ਕੋਵਿਡ ਤੋਂ ਪਹਿਲਾਂ ਲਿਆ ਜਾਂਦਾ ਹੈ ਤਾਂ ਵਿਟਾਮਿਨ- ਡੀ ਸੁਰੱਖਿਆਤਮਕ ਹੁੰਦਾ ਹੈ। ਕੋਵਿਡ ਦੇ ਦੌਰਾਨ, ੩ ਦਿਨਾਂ ਲਈ ਵਿਟਾਮਿਨ ਡੀ ਦੀ ਹਾਈਡ੍ਰੋਜ਼ ਘਟਨਾ ਦੇ ਹਿੱਸੇ ਵਿੱਚ ਅਤੇ ਕੋਵਿਡ ਬਿਮਾਰੀ ਨੂੰ ੩ ਤੋਂ ੬ ਮਹੀਨਿਆਂ ਤੱਕ ਰੋਕਣ ਵਿੱਚ ਸਹਾਇਤਾ ਕਰ ਸਕਦੀ ਹੈ. ਕੋਵਿਡ ਤੋਂ ਬਾਅਦ, ਤੁਹਾਨੂੰ ਨਿਰੰਤਰ ਵਿਟਾਮਿਨ ਡੀ ਦੀ ਜ਼ਰੂਰਤ ਹੈ, ਇਸ ਲਈ ਇਹ ਯਾਦ ਰੱਖੋ ਕਿ ਇਸ ਮਹਾਂਮਾਰੀ ਦੇ ਯੁੱਗ ਵਿਚ, ਤੁਹਾਨੂੰ ਵਿਟਾਮਿਨ ਡੀ ਦੀ ਘਾਟ ਨਹੀਂ ਹੋਣੀ ਚਾਹੀਦੀ।

Translation in  Malayalam 

ഇന്ത്യയുടെ ഹാർട്ട് കെയർ ഫൗണ്ടേഷൻ ണ്ടേഷനുവേണ്ടി, ഞാൻ നിങ്ങളെ സ്വാഗതം ചെയ്യുന്നു.നിങ്ങളുടെ കുടുംബത്തില് ആരെങ്കിലും 60 വയസ്സിന് മുകളില് ആണെങ്കില്ന  മ്മള് അവര്ക്ക് പ്രത്യേക പരിചരണം കൊടുക്കണം അവര്ക്ക് പ്രതിരോധശക്തി കുറവായിരിക്കും സെല്ലുലാര് പ്രതിരോധശക്തിയുടെ അഭാവം ഉണ്ടായേക്കാം. അവരെ നമ്മള് മാസ്ക് ധരിപ്പിക്കണം, അവര്ക്ക് സര്ജിക്കല് മാസ്ക് ആണ് കൊടുക്കേണ്ടത്.

അവര് പുറത്തേക്ക് പോകുമ്പോള്, അവര്ക്ക് മൂന്ന് സുരക്ഷാ ഓപ്ഷനുകളും ഉണ്ടെന്ന് ഉറപ്പാക്കുക, അതായത്, മാസ്ക്, വൃത്തിയുള്ള കൈകള്, സാമൂഹിക അകലം എന്നിവ. വീട്ടില് ചെറിയ കുട്ടികളോ പേരക്കുട്ടികളോ ഉണ്ടെങ്കില്, കൂടാതെ വീട്ടില് ഒരുമിച്ചുകൂടല് ഉണ്ടെങ്കില്, കുട്ടികള് മുതിര്ന്നവരുടെ അടുത്തേക്ക് വരുമ്പോള്, അവരും മാസ്ക് ധരിക്കുകയും സാമൂഹിക അകലം പാലിക്കുകയും വേണം.

കുട്ടികള്ക്ക് ന്യൂമോണിയ, ഇന്ഫ്ലുവെന്സ വാക്സിനുകള് നല്കിയിട്ടുണ്ടെന്ന് നിങ്ങള് ഉറപ്പാക്കാന് ശ്രമിക്കണം. കൂടാതെ ടെറ്റനസും, ഹെപ്പറൈറ്റിസ്-ബി യും.അവരുടെ പ്രതിരോധശക്തി നിലനില്ക്കുന്നതിനായി പോഷകസമൃദ്ധമായ ആഹാരം അവശ്യമായ അളവില് കഴിക്കുന്നുണ്ടെന്നും ഉറപ്പുവരുത്തണം.

നിങ്ങള് 60 വയസ്സിന് മുകളിലോ താഴെയോ ആണെന്നത് നോക്കാതെ, നിങ്ങളുടെ ശ്വാസകോശത്തെ ബലപ്പെടുത്തുന്ന വ്യായാമങ്ങള് നിങ്ങള് ചെയ്യണം.ഉദാഹരണത്തിനായി, ഒരു ദിവസത്തില് 6 മിനിറ്റ് നടക്കുകയും സഞ്ചരിച്ച ദൂരം പരിശോധിക്കുകയും വേണം.അത് 200 മീറ്ററിലും കുറവാണെങ്കില്, നിങ്ങളുടെ ഡോക്ടറോട് സംസാരിക്കണം.

6 മിനിറ്റ് നടക്കുന്നത് കൊണ്ട് നിങ്ങളുടെ ശരീരത്തിന് ക്ഷീണം അനുഭവപ്പെടരുത്, നിങ്ങള് ഒരു പീക്ക് ഫ്ലോ മീറ്റര് വാങ്ങുകയും നിങ്ങളുടെ വ്യക്തിഗത പരിശോധനകള്ന ടത്തുകയും വേണം, കാരണം നിങ്ങൾക്ക് ന്യുമോണിയ അല്ലെങ്കിൽ കോവിഡ് -19 ഉണ്ടെങ്കിൽ, നിങ്ങളുടെ ശ്വാസകോശം മെച്ചപ്പെടുന്നുണ്ടോ ഇല്ലയോ എന്ന് ഞങ്ങള്ക്ക്ക ണ്ടെത്തേണ്ടതുണ്ട്.
നിങ്ങള്ക്ക് ന്യൂമോണിയ വരികയാണെങ്കില്, നിങ്ങളുടെ പുറകിലെ ശ്വാസകോശം തുറക്കാനായി, കമഴ്ന്ന് കിടന്ന് ഉറങ്ങാന് തുടങ്ങുക. കോവിഡ്-19 ൽ ശ്വാസകോശത്തിന് അണുബാധയേല്ക്കുന്ന സ്ഥലമാണിത്.

കൂടാതെ, നിങ്ങള് ഒരു ബലൂണ് എടുത്ത് 3 തവണ അത് വീര്പ്പിക്കണം.  ഒരു തവണ, രണ്ട് തവണ, മൂന്ന് തവണ.നിങ്ങൾ ഇത് മൂന്നുതവണ വീര്പ്പിക്കുകയാണെങ്കിൽ, നിങ്ങളുടെ ശ്വാസകോശ ശേഷി നല്ലതാണെന്നും നിങ്ങൾക്ക് ഏത് തരത്തിലുള്ള ന്യൂമോണിയയെയും നേരിടാമെന്നും അറിയുക.ഇത് വ്യക്തമാണ്, നിങ്ങൾക്ക് വിറ്റാമിൻ-ഡി കുറവുള്ള പ്രായം, അത് ഇതുമായി ബന്ധപ്പെട്ടിട്ടില്ലെന്ന് നിങ്ങൾ കണ്ടെത്തും. കാരണം നിങ്ങൾക്ക് വിറ്റാമിൻ-ഡി കുറവാണെങ്കിൽ, വിറ്റാമിൻ ഡി ഇമ്മ്യൂണോമോഡുലേറ്ററി ആണ്. വിറ്റാമിൻ ഡി റിസപ്റ്ററുകളുടെ ശേഷി വർദ്ധിപ്പിക്കുന്നു ശരീരത്തിൽ വിറ്റാമിൻ ഡിയുടെ കുറവ് ഉണ്ടെങ്കില് ശ്വാസകോശത്തിന്റെ സ്വാഭാവിക സംരക്ഷണ ശേഷി നഷ്ടപ്പെടും.നിങ്ങളുടെ ഹൈപ്പർ ടെൻഷൻ നിയന്ത്രിക്കുക, കാരണം അതിൽ ഉയർന്ന അളവിൽ ആൻജിയോടെൻസിൻ അടങ്ങിയിട്ടുണ്ട്.വിറ്റാമിൻ-ഡി നിങ്ങളുടെ നാസോഫാരിൾ സംരക്ഷണ

സംവിധാനത്തെയും കോശങ്ങളിലേക്ക് പ്രവേശിക്കുന്ന വൈറസുകളുടെ നിലയെയും സഹായിക്കുന്നു.അതിനാൽ, കോവിഡിന് മുമ്പ് എടുക്കുകയാണെങ്കില് വിറ്റാമിൻ-ഡി ഒരു സംരക്ഷണമാണ്.കോവിഡ് സമയത്ത്, 3 ദിവസത്തേക്ക് വിറ്റാമിൻ ഡിയുടെ ഹൈഡ്രോസ് ബാധിച്ച സമയത്തേക്കും 3 മുതൽ 6 മാസം വരെ കോവിഡ് രോഗം തടയുന്നതിനും സഹായിക്കും. കോവിഡിന് ശേഷം, നിങ്ങൾക്ക് തുടർച്ചയായ വിറ്റാമിൻ ഡി ആവശ്യമാണ്, അതിനാൽ ഈ പകർച്ചവ്യാധി യുഗത്തിൽ നിങ്ങൾക്ക് വിറ്റാമിൻ ഡി യുടെ കുറവുണ്ടാകരുത് എന്നത് ശ്രദ്ധിയ്ക്കണം.

Translation in Oriya 

 ଭାରତର ହାର୍ଟ କେୟାର ଫାଉଣ୍ଡେସନ୍ ତରଫରୁ ମୁଁ ଆପଣଙ୍କୁ ସ୍ୱାଗତ କରୁଛି। ଯଦି ଆପଣଙ୍କ ପରିବାରର କେହି ୬୦ ବର୍ଷରୁ ଅଧିକ। ଆମେ ସେଗୁଡ଼ିକର ବିଶେଷ ଯତ୍ନ ନେବା ଉଚିତ୍।। ସେମାନଙ୍କର ଇଂମୁନିଟି ଅଭାବ ହୋଇପାରେ। ସେଲ୍ୟୁଲାର ଇଂମୁନିଟି ଅଭାବ ହୋଇପାରେ।
ଆମକୁ ସେମାନଙ୍କୁ ମାସ୍କ ବ୍ୟବହାର କରିବାକୁ ପଡିବ, ସେମାନଙ୍କୁ ଏକ ସର୍ଜିକାଲ୍ ମାସ୍କ ଦିଆଯିବା ଆବଶ୍ୟକ। ଯେତେବେଳେ ସେମାନେ ବାହାରକୁ ଯାଆନ୍ତି, ଦେଖନ୍ତୁ ଯେ ସେମାନଙ୍କର ତିନୋଟି ସୁରକ୍ଷା ବିକଳ୍ପ ଅଛି। ତାହା ହେଉଛି, ମାସ୍କ, ସଫା ହାତ ଏବଂ ଶାରୀରିକ ଦୂରତା।

ଯଦି ଘରେ ଛୋଟ ପିଲା କିମ୍ବା ନାତି ନାତୁଣୀ ଥାଆନ୍ତି ଏବଂ ଘରେ ଏକାଠି ହୁଅନ୍ତି, ତେବେ ଯେତେବେଳେ ପିଲାମାନେ ପ୍ରାଚୀନମାନଙ୍କ ନିକଟକୁ ଆସନ୍ତି, ସେମାନେ ମଧ୍ୟ ମାସ୍କ ପିନ୍ଧି ଶାରୀରିକ ଦୂରତା ବଜାୟ ରଖିବା ଉଚିତ୍। ଆମକୁ ନିଶ୍ଚିତ କରିବାକୁ ଚେଷ୍ଟା କରିବାକୁ ପଡିବ ଯେ ପିଲାମାନଙ୍କୁ ନିମୋନିଆ ଏବଂ ଫ୍ଲୁ ଟୀକାକରଣ ଦିଆଯାଇଛି ଟିଟାନସ୍ ଏବଂ ହେପ୍ ମଧ୍ୟ। ଏହା ମଧ୍ୟ ଦେଖାଯିବା ଉଚିତ ଯେ ପୁଷ୍ଟିକର ଖାଦ୍ୟ ପର୍ଯ୍ୟାପ୍ତ ପରିମାଣରେ ଖିଆଯାଏ ଯାହା ଦ୍ their ାରା ସେମାନଙ୍କର ରୋଗ ପ୍ରତିରୋଧକ ଶକ୍ତି ରହିଥାଏ।ଏହା ବ୍ୟତୀତ ତୁମର ୬୦ ବର୍ଷରୁ ଅଧିକ କିମ୍ବା 60 ବର୍ଷରୁ କମ୍, ତୁମେ ବ୍ୟାୟାମ କରିବା ଉଚିତ ଯାହା ଫୁସଫୁସକୁ ମଜବୁତ କରେ।

 ଉଦାହରଣ ସ୍ୱରୂପ, ଦିନରେ ୬ ମିନିଟ୍ ଚାଲିବା ଏବଂ ଆବୃତ ଦୂରତା ଯାଞ୍ଚ କରିବା।ଯଦି ଏହା ୨୦୦ ମିଟରରୁ କମ୍, ତେବେ ଡାକ୍ତରଙ୍କ ସହ କଥା ହୁଅନ୍ତୁ।।୬ ମିନିଟ୍ ଚାଲିବା ଆପଣଙ୍କ କ୍ଲାନ୍ତ ଅନୁଭବ କରିବା ଉଚିତ୍ ନୁହେଁ, ଆପଣ ଏକ ଶିଖର ଫ୍ଲୋ ମିଟର କିଣିବା ଉଚିତ ଏବଂ ଆପଣଙ୍କର ବ୍ୟକ୍ତିଗତ ଯାଞ୍ଚ କରିବା ଉଚିତ କାରଣ ଯଦି ଆପଣଙ୍କର ନିମୋନିଆ କିମ୍ବା କୋଭିଡ୍ -୧୯ ଅଛି, ତେବେ ଆପଣଙ୍କ ଫୁସଫୁସରେ ଉନ୍ନତି ହେଉଛି କି ନାହିଁ ତାହା ଜାଣିବା ଆବଶ୍ୟକ।

ତୁମେ ତୁମର ପେଟରେ ଶୋଇବା ଆରମ୍ଭ କର, ଯାହାଫଳରେ ଯଦି ତୁମେ ନିମୋନିଆ ହୁଏ, ତେବେ ତୁମର ପଛରେ ଫୁସଫୁସ ଖୋଲିବ। କୋଭିଡ୍ -୧୯ ରେ ଫୁସଫୁସ ସଂକ୍ରମିତ ଏହି ସ୍ଥାନ। ଆହୁରି ମଧ୍ୟ, ଆପଣଙ୍କୁ ଏକ ବେଲୁନ୍ ନେଇ ୩ ଥର ଫୁଲିବାକୁ ପଡିବ। ଥରେ, ଦୁଇଥର ଏବଂ ତିନିଥର।

ଯଦି ତୁମେ ଏହାକୁ ତିନିଥର ଫୁଲିବାକୁ, ଜାଣ ଯେ ତୁମର ଫୁସଫୁସ କ୍ଷମତା ଭଲ ଏବଂ ତୁମେ ଯେକ type ଣସି ପ୍ରକାରର ନିମୋନିଆର ସାମ୍ନା କରିପାରିବ। ଏହା ସ୍ପଷ୍ଟ, ତୁମେ ପାଇବ ଯେ ଯେଉଁ ବୟସରେ ତୁମେ ଭିଟାମିନ୍-ଡିରେ ଅଭାବ, ଏହା ତାହା ସହିତ ଜଡିତ ନୁହେଁ। କାରଣ ଯଦି ତୁମେ ଭିଟା

କାରଣ ଯଦି ତୁମେ ଭିଟାମିନ୍-ଡି ଅଭାବ, ଭିଟାମିନ୍ ଡି ଇମ୍ୟୁନୋମୋଡ୍ୟୁଲେଟୋରୀ ଅଟେ। ଭିଟାମିନ୍ ଡି ରିସେପ୍ଟରର କପସିଟି ରିସପିତ୍ତର  ଯଦି ଶରୀରରେ ଭିଟାମିନ୍ D ର ଅଭାବ ଥାଏ, ତେବେ ଫୁସଫୁସର ପ୍ରାକୃତିକ ପ୍ରତିରକ୍ଷା କ୍ଷମତା ନଷ୍ଟ ହୋଇଯାଏ। ତୁମର ହାଇପର ଟେନସନକୁ ନିୟନ୍ତ୍ରଣ କର, କାରଣ ଏଥିରେ ବହୁତ ପରିମାଣର ଆଞ୍ଜିଓଟେନସିନ୍ ଥାଏ। ଭିଟାମିନ୍-ଡି ଆପଣଙ୍କ ନାସୋଫାରିଲ୍ ପ୍ରତିରକ୍ଷା ପ୍ରଣାଳୀ ଏବଂ କୋଷରେ ପ୍ରବେଶ କରୁଥିବା ଜୀବାଣୁ ସ୍ତରକୁ ମଧ୍ୟ ସାହାଯ୍ୟ କରେ।ତେଣୁ, କୋଭିଡ ପୂର୍ବରୁ ନିଆଗଲେ ଭିଟାମିନ୍-ଡି ପ୍ରତିରକ୍ଷା ଅଟେ।

କୋଭିଡ୍ ସମୟରେ, ଭିଟାମିନ୍ ଦି ର ହାଇଡ୍ରୋସ୍ ୩ ଦିନ ପାଇଁ ଘଟଣାରେ ସାହାଯ୍ୟ କରିଥାଏ ଏବଂ ୩ ରୁ ୬ ମାସ ପର୍ଯ୍ୟନ୍ତ କୋଭିଡ୍ ରୋଗକୁ ରୋକିବାରେ ସାହାଯ୍ୟ କରିଥାଏ। କୋଭିଡ୍ ପରେ, ଆପଣଙ୍କୁ ନିରନ୍ତର ଭିଟାମିନ୍ D ଦରକାର, ତେଣୁ ମନେରଖନ୍ତୁ ଯେ ଏହି ମହାମାରୀ ଯୁଗରେ, ଆପଣ ଭିଟାମିନ୍ ଡିରେ ଅଭାବ ହେବା ଉଚିତ୍ ନୁହେଁ।


Translation in Bengali 

আমি আপনাকে হার্ট কেয়ার ফাউন্ডেশন অফ ইন্ডিয়া থেকে স্বাগত জানাই। যদি আপনার পরিবারের কেউ ৬০ বছরের বেশি হয়। আমাদের তাদের বিশেষ যত্ন নেওয়া উচিত। তাদের ইম্মুনিটি অভাব হতে পারে। সেলুলার ইম্মুনিটি অভাব হতে পারে। তাদের মাস্ক ব্যবহার করতে হবে, তাদের একটি সার্জিক্যাল মাস্ক দেওয়া দরকার।

যখন তারা বাইরে যান, খেয়াল রাখুন যে তাদের কাছে সুরক্ষার তিনটি বিকল্প রয়েছে। তা হল, মাস্ক, পরিষ্কার হাত এবং শারীরিক দূরত্ব।বাড়িতে যদি ছোট বাচ্চা বা নাতি-নাতনি থাকে এবং বাড়িতে একত্রিত হয়, তবে বাচ্চারা যখন প্রবীণদের কাছে আসে, তাদেরও মাস্ক পরানো উচিত এবং শারীরিক দূরত্ব বজায় রাখা উচিত। আমাদের বাচ্চাদের নিউমোনিয়া এবং ফ্লু টিকা দেওয়া হয়েছে তা নিশ্চিত করার চেষ্টা করতে হবে। এছাড়াও টিটেনাস এবং হেপাটাইটিস - বি।
এটিও দেখতে হবে যে পুষ্টিকর খাবার পর্যাপ্ত পরিমাণে খাওয়া হয় যাতে তাদের ইম্মুনিটি থেকে যায়।

আপনার বয়স ৬০ বছরের বেশি বা ৬০ বছরের কম হোক, আপনার অনুশীলন করা উচিত যা ফুসফুসকে শক্তিশালী করে।इसके अलावा कि आप 60 साल से अधिक या 60 से कम हैं, आपको फेफड़ों को मज़बूत बनाने वाली एक्सरसाइज़ करनी चाहिए ।
উদাহরণস্বরূপ, দিনে ৬ মিনিটের জন্য হাঁটা এবং আচ্ছাদিত দূরত্বটি পরীক্ষা করা। যদি এটি ২০০ মিটারেরও কম হয়, তবে আপনার ডাক্তারের সাথে কথা বলুন।

৬ মিনিট হাঁটলে আপনার ক্লান্তি অনুভব করা উচিত নয়, আপনার পিক ফ্লো মিটার কিনে নেওয়া উচিত এবং আপনার ব্যক্তিগত চেক আপ করা উচিত কারণ আপনার যদি নিউমোনিয়া বা কোভিড -১৯ থাকে তবে, আপনার ফুসফুসের উন্নতি হচ্ছে কিনা তা খুঁজে বের করতে হবে।

আপনি আপনার পেটে ঘুমোতে শুরু করবেন, যাতে আপনার যদি নিউমোনিয়া হয় তবে আপনার পিছনের ফুসফুসগুলি খুলবে। এটি সেই অঞ্চল যেখানে কোভিড -১৯-এ ফুসফুস সংক্রামিত হয়ে থাকে।এছাড়াও, আপনাকে একটি বেলুন নিতে হবে এবং এটি ৩ বার ফুলিয়ে দেখতে হবে।একবার, দুবার, এবং তিনবার।

যদি আপনি এটি তিনবার স্ফীত করে থাকেন তবে জেনে রাখুন যে আপনার ফুসফুসের ক্ষমতা ভাল এবং আপনি যে কোনও ধরণের নিউমোনিয়ার মুখোমুখি হতে পারেন। এটা স্পষ্টতই, আপনি দেখতে পাবেন যে বয়সে আপনার ভিটামিন-ডি এর অভাব রয়েছে, তার সাথে এটি সম্পর্কিত নয়।

কারণ আপনি যদি ভিটামিন-ডি এর ঘাটতি হন তবে ভিটামিন ডি ইমিউনোমোডুলেটরি। ভিটামিন ডি রিসেপ্টরগুলির ক্ষমতা বাড়ায়।যদি শরীরে ভিটামিন ডি এর ঘাটতি থাকে তবে ফুসফুসের প্রাকৃতিক প্রতিরক্ষামূলক ক্ষমতা নষ্ট হয়ে যায়। আপনার হাইপার টেনশন নিয়ন্ত্রণ করুন, কারণ এতে খুব উচ্চ পরিমাণে অ্যাঞ্জিওটেনসিন রয়েছে।

ভিটামিন-ডি আপনার নাসোফেরিল প্রটেক্টিভ মেকানিজম এবং কোষগুলিতে প্রবেশ করে এমন ভাইরাসের স্তরকে সহায়তা করে। অতএব, কোভিডের আগে গ্রহণ করা হলে ভিটামিন-ডি প্রতিরক্ষামূলক। কোভিড চলাকালীন, ৩ দিনের জন্য ভিটামিন ডি এর হাইড্রোস ঘটনা অংশ এবং ৩ থেকে ৬ মাসের জন্য কোভিড রোগ প্রতিরোধে সহায়তা করতে পারে। কোভিডের পরে আপনার ক্রমাগত ভিটামিন ডি প্রয়োজন, তাই মনে রাখবেন যে এই মহামারী যুগে আপনার ভিটামিন ডি এর ঘাটতি হওয়া উচিত নয

Translation in Gujrati 

હાર્ટ કરે ફોઉન્ડેશન ઓફ ઇન્ડિયા વતી, હું તમારું સ્વાગત કરું છું.જો તમારા પરિવારમાં કોઈ 60 વર્ષથી ઉપરનું છે , તો આપણે  તેમની વિશેષ કાળજી લેવી જોઈએ. તેઓમાં રોગપ્રતિકારક શક્તિનો અભાવ હોઈ શકે છે. સેલ્યુલર પ્રતિરક્ષા અભાવ પણ  થઈ શકે છે. આપણે તેમને માસ્કનો ઉપયોગ કરાવો પડશે, તેમને સર્જિકલ માસ્ક આપવાની જરૂર છે. જ્યારે તેઓ બહાર જાય છે, ત્યારે જુઓ કે તેમની પાસે સુરક્ષાના ત્રણેય વિકલ્પો છે. તે છે, માસ્ક, સ્વચ્છ હાથ અને શારીરિક અંતર. 

જો ઘરમાં નાના બાળકો અથવા પૌત્રો હોય અને ઘરે ભેગા મળીને રહેતા હોય, તો પછી, જ્યારે બાળકો વડીલોની નજીક આવે છે, ત્યારે તેઓએ માસ્ક પણ પહેરવા જોઈએ અને શારીરિક અંતર જાળવવું જોઈએ. આપણે એ સુનિશ્ચિત કરવાનો પ્રયાસ કરવો પડશે કે બાળકોને ન્યુમોનિયા અને ફ્લૂ રસી આપવામાં આવી છે. ટિટાનસ અને હિપેટાઇટિસ - બી. પણ .

તે પણ જોવું જોઈએ કે પોષક ખોરાક પૂરતા પ્રમાણમાં ખાવામાં આવે છે જેથી તેમની રોગ પ્રતિકારક શક્તિ જડવાય  રહે. તમારી ઉંમર 60 વર્ષથી વધુ હોય  કે 60 વર્ષથી ઓછી ,  તમારે એવી કસરતો કરવી જોઈએ જે ફેફસાંને મજબૂત બનાવે.
ઉદાહરણ તરીકે, દિવસમાં 6 મિનિટ ચાલવું અને કપાયેલ અંતરને તપાસો. જો તે 200 મીટરથી ઓછી છે, તો તમારા ડોક્ટર સાથે વાત કરો.

6 મિનિટ ચાલવાથી તમારા મા થાક નો અહેસાસ ના થવો જોઈએ, તમારે એક પીક ફ્લો મીટર ખરીદવું જોઈએ અને તમારી વ્યક્તિગત તપાસ કરવી જોઈએ કારણ કે જો તમને ન્યુમોનિયા અથવા કોવિડ -19 છે, તો તમારે એ જાણવાની જરૂર છે કે તમારા ફેફસાં સુધરે છે કે નહીં. તમે તમારા પેટ પર સૂવાનું શરૂ કરો છો, જેથી જો તમને ન્યુમોનિયા થાય, તો તમારી પાછળના ફેફસાં ખુલે છે. આ તે ક્ષેત્ર છે જ્યાં કોવિડ -19 મા  ફેફસાં ને ચેપ લાગ્યો છે.

ઉપરાંત, તમારે બલૂન લેવું જોઈએ  અને તેને 3 વખત ફૂલાવવુ જોઈએ .એકવાર, બે વાર, અને ત્રણ વખત.  જો તમે તેને ત્રણ વાર ફૂલાવો  છો, તો જાણો કે તમારી ફેફસાની ક્ષમતા સારી છે અને તમે કોઈપણ પ્રકારના ન્યુમોનિયાનો સામનો કરી શકો છો.  તે સ્પષ્ટ છે, તમે જોશો કે જે ઉંમરે તમને વિટામિન-ડીની ઉણપ છે, તે  સાથે સંબંધિત નથી .

કારણ કે જો તમને વિટામિન-ડીની ઉણપ છે , તો વિટામિન ડી ઇમ્યુનોમોડ્યુલેટરી છે.વિટામિન ડી રીસેપ્ટર્સની ક્ષમતામાં વધારો કરે છે .જો શરીરમાં વિટામિન ડીની ઉણપ હોય, તો ફેફસાંની કુદરતી રક્ષણાત્મક ક્ષમતા ખોવાઈ જાય છે.
તમારા હાયપર ટેન્શનને નિયંત્રિત કરો, કેમ કે તે એન્જીયોટેન્સિનની માત્રા ખૂબ વધારે છે. વિટામિન-ડી તમારા નાસોફેરિલ રક્ષણાત્મક મિકેનિઝમ અને કોષોમાં પ્રવેશતા વાયરસના સ્તરને પણ મદદ કરે છે. 

તેથી, જો કોવિડ પહેલાં લેવામાં આવે તો વિટામિન-ડી રક્ષણાત્મક છે. કોવિડ દરમિયાન, 3 દિવસ સુધી વિટામિન ડીની હાઇડ્રોસ લેવામા આવે તો  3 થી 6 મહિના સુધી કોવિડ રોગને રોકવામાં મદદ કરી શકે છે. કોવિડ પછી, તમારે સતત વિટામિન ડીની જરૂર રહેશે  તેથી ધ્યાનમાં રાખો કે આ રોગચાળાના સમય માં, તમારા મા  વિટામિન ડીની ઉણપ ન હોવી જોઈએ.


Translation in Kannada

ಹಾರ್ಟ್ ಕೇರ್ ಫೌಂಡೇಶನ್ ಆಫ್ ಇಂಡಿಯಾ ಪರವಾಗಿ, ನಾನು ನಿಮ್ಮನ್ನು ಸ್ವಾಗತಿಸುತ್ತೇನೆ.ನಿಮ್ಮ ಕುಟುಂಬದಲ್ಲಿ ಯಾರಾದರೂ 60 ವರ್ಷಕ್ಕಿಂತ ಮೇಲ್ಪಟ್ಟವರಾಗಿದ್ದರೆನಾವು ಅವರ ಬಗ್ಗೆ ವಿಶೇಷ ಗಮನ ವಹಿಸಬೇಕು.
 ಅವರಿಗೆ ರೋಗ ನಿರೋಧಕ ಶಕ್ತಿ ಇಲ್ಲದಿರಬಹುದು.  ಸೆಲ್ಯುಲಾರ್ ರೋಗ್ ನಿರೋಧಕ ಶಕ್ತಿ ಕೊರತೆ ಸಂಭವಿಸಬಹುದು.ನಾವು ಅವರಿಗೆ ಮಾಸ್ಕಗಳನ್ನು ಬಳಸುವಂತೆ ಮಾಡಬೇಕು, ಅವರಿಗೆ ಶಸ್ತ್ರಚಿಕಿತ್ಸೆಯ ಮಾಸ್ಕಗಳನ್ನು ನೀಡಬೇಕಾಗಿದೆ.

ಅವರು ಹೊರಗೆ ಹೋದಾಗ, ಅವರಿಗೆ ಎಲ್ಲಾ ಮೂರು ಭದ್ರತಾ ಆಯ್ಕೆಗಳಿವೆ ಎಂದು ನೋಡಿ. ಅದು ಮಾಸ್ಕ, ಕೈಗಳನ್ನು ಸ್ವಚ್ ಮತ್ತು ದೈಹಿಕ ಅಂತರವನ್ನು ಕಾಪಾಡಿಕೊಳ್ಳುವುದು. ಮನೆಯಲ್ಲಿ ಸಣ್ಣ ಮಕ್ಕಳು ಅಥವಾ ಮೊಮ್ಮಕ್ಕಳು ಇದ್ದರೆ ಮತ್ತು ಮನೆಯಲ್ಲಿ ಒಂದುಗೂಡಿಸುವಿಕೆ ಇದ್ದರೆ, ಮಕ್ಕಳು ಹಿರಿಯರ ಹತ್ತಿರ ಬಂದಾಗ, ಅವರು ಮಾಸ್ಕಗಳನ್ನು ಧರಿಸಿ ದೈಹಿಕ ಅಂತರವನ್ನು ಕಾಪಾಡಿಕೊಳ್ಳಬೇಕು.ಮಕ್ಕಳಿಗೆ ನ್ಯುಮೋನಿಯಾ ಮತ್ತು ಫ್ಲೂ ಗಳನ್ನು ನೀಡಲಾಗಿದೆ ಎಂದು ಖಚಿತಪಡಿಸಿಕೊಳ್ಳಲು ನಾವು ಪ್ರಯತ್ನಿಸಬೇಕು ಟೆಟನಸ್ ಮತ್ತು ಹೆಪಟೈಟಿಸ್ - ಬಿ ಕೂಡ.

ಪೌಷ್ಠಿಕ ಆಹಾರವನ್ನು ಸೇವಿಸುವುದನ್ನು ಸಹ ನೋಡಬೇಕು ಸಾಕಷ್ಟು ಪ್ರಮಾಣದಲ್ಲಿರುವುದರಿಂದ ಅವುಗಳ ರೋಗನಿರೋಧಕ ಶಕ್ತಿ ಉಳಿದಿದೆ.ನಿಮ್ಮ ವಯಸ್ಸು 60 ವರ್ಷಕ್ಕಿಂತ ಮೇಲ್ಪಟ್ಟವರೇ ಅಥವಾ 60 ವರ್ಷದೊಳಗಿನವರೇ ಹೊರತು, ನೀವು ಶ್ವಾಸಕೋಶವನ್ನು ಬಲಪಡಿಸುವ ವ್ಯಾಯಾಮಗಳನ್ನು ಮಾಡಬೇಕು.

ಉದಾಹರಣೆಗೆ, ದಿನದಲ್ಲಿ 6 ನಿಮಿಷಗಳ ಕಾಲ ನಡೆಯುವುದು ಮತ್ತು ಆವರಿಸಿರುವ ದೂರವನ್ನು ಪರಿಶೀಲಿಸುವುದು.  ಇದು 200 ಮೀಟರ್ಗಿಂತ ಕಡಿಮೆಯಿದ್ದರೆ, ನಿಮ್ಮ ವೈದ್ಯರೊಂದಿಗೆ ಮಾತನಾಡಿ. 6 ನಿಮಿಷಗಳ ನಡೆಯುವುದರಿಂದ ನಿಮ್ಮ ಭಾವನೆ ಸುಸ್ತಾಗಬಾರದು, ನೀವು ಗರಿಷ್ಠ ಹರಿವಿನ ಮೀಟರ್ ಖರೀದಿಸಬೇಕು ಮತ್ತು ನಿಮ್ಮ ವೈಯಕ್ತಿಕ ತಪಾಸಣೆ ಮಾಡಬೇಕು ಏಕೆಂದರೆ ನಿಮಗೆ ನ್ಯುಮೋನಿಯಾ ಅಥವಾ ಕೋವಿಡ್ -19 ಇದ್ದರೆ, ನಿಮ್ಮ ಶ್ವಾಸಕೋಶವು ಸುಧಾರಿಸುತ್ತಿದೆಯೇ ಅಥವಾ ಇಲ್ಲವೇ ಎಂಬುದನ್ನು ನಾವು ಕಂಡುಹಿಡಿಯಬೇಕು.

ನಿಮ್ಮ ಹೊಟ್ಟೆಯಲ್ಲಿ ನೀವು ಮಲಗಲು ಪ್ರಾರಂಭಿಸುತ್ತೀರಿ, ಇದರಿಂದ ನಿಮಗೆ ನ್ಯುಮೋನಿಯಾ ಬಂದರೆ, ನಿಮ್ಮ ಹಿಂದಿರುವ ಶ್ವಾಸಕೋಶಗಳು ತೆರೆದುಕೊಳ್ಳುತ್ತವೆ. ಕೋವಿಡ್ -19 ರಲ್ಲಿ ಶ್ವಾಸಕೋಶವು ಸೋಂಕಿಗೆ ಒಳಗಾದ ಪ್ರದೇಶ ಇದು.
ಅಲ್ಲದೆ, ನೀವು ಬಲೂನ್ ತೆಗೆದುಕೊಂಡು ಅದನ್ನು 3 ಬಾರಿ ಉಬ್ಬಿಕೊಳ್ಳಬೇಕು.ಒಮ್ಮೆ, ಎರಡು ಬಾರಿ ಮತ್ತು ಮೂರು ಬಾರಿ.ನೀವು ಅದನ್ನು ಮೂರು ಬಾರಿ ಹೆಚ್ಚಿಸಿದರೆ, ನಿಮ್ಮ ಶ್ವಾಸಕೋಶದ ಸಾಮರ್ಥ್ಯ ಉತ್ತಮವಾಗಿದೆ ಮತ್ತು ನೀವು ಯಾವುದೇ ರೀತಿಯ ನ್ಯುಮೋನಿಯಾವನ್ನು ಎದುರಿಸಬಹುದು ಎಂದು ತಿಳಿಯಿರಿ. 

ಇದು ಸ್ಪಷ್ಟವಾಗಿದೆ, ನೀವು ಯಾವ ವಯಸ್ಸಿನಲ್ಲಿ ವಿಟಮಿನ್-ಡಿ ಕೊರತೆಯನ್ನು ಹೊಂದಿರುವಿರಿ ಎಂದು ನೀವು ಕಂಡುಕೊಳ್ಳುತ್ತೀರಿ, ಅದು ಅದಕ್ಕೆ ಸಂಬಂಧಿಸಿಲ್ಲ.ಏಕೆಂದರೆ ನೀವು ವಿಟಮಿನ್-ಡಿ ಕೊರತೆಯಿದ್ದರೆ, ವಿಟಮಿನ್ ಡಿ ಇಮ್ಯುನೊಮಾಡ್ಯುಲೇಟರಿ ಆಗಿದೆ. ವಿಟಮಿನ್ ಡಿ ಗ್ರಾಹಕಗಳ ಸಾಮರ್ಥ್ಯವನ್ನು ಹೆಚ್ಚಿಸುತ್ತದೆದೇಹದಲ್ಲಿ ವಿಟಮಿನ್ ಡಿ ಕೊರತೆಯಿದ್ದರೆ, ನಂತರ ಶ್ವಾಸಕೋಶದ ನೈಸರ್ಗಿಕ ರಕ್ಷಣಾತ್ಮಕ ಸಾಮರ್ಥ್ಯ ಕಳೆದುಹೋಗುತ್ತದೆ. 
ನಿಮ್ಮ ಅಧಿಕ ರಕ್ತದೊತ್ತಡವನ್ನು ನಿಯಂತ್ರಿಸಿ, ಏಕೆಂದರೆ ಇದು ಹೆಚ್ಚಿನ ಪ್ರಮಾಣದ ಆಂಜಿಯೋಟೆನ್ಸಿನ್ ಅನ್ನು ಹೊಂದಿರುತ್ತದೆ.ವಿಟಮಿನ್-ಡಿ ನಿಮ್ಮ ನಾಸೊಫಾರ್ನೆಕ್ಸ್ ರಕ್ಷಣಾತ್ಮಕ ಕಾರ್ಯವಿಧಾನಕ್ಕೆ ಸಹಾಯ ಮಾಡುತ್ತದೆ ಮತ್ತು ಜೀವಕೋಶಗಳಿಗೆ ಪ್ರವೇಶಿಸುವ ವೈರಸ್ಗಳ ಮಟ್ಟಕ್ಕೂ ಸಹಾಯ ಮಾಡುತ್ತದೆ.

ಆದ್ದರಿಂದ, ಕೋವಿಡ್ ಮೊದಲು ತೆಗೆದುಕೊಂಡರೆ, ವಿಟಮಿನ್-ಡಿ ರಕ್ಷಣಾತ್ಮಕವಾಗಿದೆ ಕೋವಿಡ್ ಸಮಯದಲ್ಲಿ, ವಿಟಮಿನ್ ಡಿ ಯ ಹೈಡ್ರೋಸ್ 3 ದಿನಗಳವರೆಗೆ ಘಟನೆಯ ಭಾಗಕ್ಕೆ ಸಹಾಯ ಮಾಡುತ್ತದೆ ಮತ್ತು 3 ರಿಂದ 6 ತಿಂಗಳವರೆಗೆ ಕೋವಿಡ್ ರೋಗವನ್ನು ತಡೆಯುತ್ತದೆ. ಕೋವಿಡ್ ನಂತರ, ನಿಮಗೆ ನಿರಂತರ ವಿಟಮಿನ್ ಡಿ ಅಗತ್ಯವಿದೆ, ಆದ್ದರಿಂದ ಈ ಸಾಂಕ್ರಾಮಿಕ ಯುಗದಲ್ಲಿ ನೀವು ವಿಟಮಿನ್ ಡಿ ಕೊರತೆಯನ್ನು ಹೊಂದಿರಬಾರದು ಎಂಬುದನ್ನು ನೆನಪಿನಲ್ಲಿಡಿ.

Translation in Telugu

 హార్ట్ కేర్ ఫౌండేషన్ ఆఫ్ ఇండియా నుండి నేను మిమ్మల్ని స్వాగతిస్తున్నాను. మీ కుటుంబంలో ఎవరైనా 60 సంవత్సరాల పైన ఉంటే మనము వారిది ప్రత్యేక శ్రద్ధ తీసుకోవాలి వారికి రోగనిరోధక శక్తి లేకపోవచ్చు.సెల్యులార్ రోగనిరోధక శక్తి లేకపోవడం సంభవించవచ్చు.

మనము వారిని మాస్కులు ఉపయోగించుకునేలా చేయాలి, వారికి శస్త్రచికిత్స మాస్క్ ఇవ్వాలి. जవారు బయటకు వెళ్ళినప్పుడు, వారికి మూడు భద్రతా ఎంపికలు ఉన్నాయని చూడండి. అది మాస్క్, శుభ్రమైన చేతులు మరియు భౌతిక దూరం (ఫిసికల్ డిస్టెన్స్) ఇంట్లో చిన్న పిల్లలు లేదా మనవరాళ్ళు ఉంటే, ఇంట్లో ఒకచోట చేరితే, పిల్లలు పెద్దల దగ్గరకు వచ్చినప్పుడు, వారు కూడా మాస్కులు ధరించి భౌతిక దూరాన్ని నిర్వహించాలీ.

మనము పిల్లలకు న్యుమోనియా, ఫ్లూ టీకాలు ఇవ్వబడ్డాయని నిర్ధారించడానికి ప్రయత్నించాలి అలాగే టెటానస్ మరియు హెపటైటిస్ - బి కూడా. పోషక ఆహారాన్ని తగినంత పరిమాణంలో తీసుకుంటారని కూడా చూడాలి, అందువలన వారి రోగనిరోధక శక్తి అలాగే ఉంటుంది. అదే కాకుండా మీ వయస్సు 60 సంవత్సరాలు లేదా 60 లోపు ఉన్న, మీరు ఉపిరితిత్తులను బలోపేతం చేసే వ్యాయామాలు చేయాలి.

ఉదాహరణకు, ఒక రోజులో 6 నిమిషాలు నడవడం మరియు నడిచిన దూరాన్ని తనిఖీ చేయడం ఇది 200 మీటర్ల కన్నా తక్కువ ఉంటే, మీ వైద్యుడితో మాట్లాడండి.
6 నిమిషాలు నడవడం మీ అలసటను కలిగించకూడదు, మీరు పీక్ ఫ్లో మీటర్ కొనాలి మరియు మీ వ్యక్తిగత తనిఖీ చేయాలి ఎందుకంటే మీకు న్యుమోనియా లేదా కోవిడ్ -19 ఉంటే, మీ ఉపిరితిత్తులు మెరుగుపడుతున్నాయా లేదా అనే విషయాన్ని మేము కనుగొనాలి.

మీరు మీ కడుపుపై నిద్రించడం మొదలు పెట్టండి, తద్వారా మీకు న్యుమోనియా వస్తే, మీ వెనుక ఉన్న ఉపిరితిత్తులు తెరుచుకుంటాయి. కోవిడ్ -19 లో ఉపిరితిత్తులు సోకిన ప్రాంతం ఇది.  అలాగే, మీరు ఒక గాలి బుడగను తీసుకొని 3 సార్లు ఊది గాలి నింపండి. ఒకసారి, రెండుసార్లు, మరియు మూడు సార్లు.

మీరు దాన్ని మూడుసార్లు ఊదితే, మీ ఉపిరితిత్తుల సామర్థ్యం మంచిదని తెలుసుకోండి మరియు మీరు ఏ రకమైన న్యుమోనియాను ఎదురుకోవొచ్చు. ఇది స్పష్టంగా ఉంది, మీకు విటమిన్-డి లోపం ఉన్న వయస్సు, అది దానికి సంబంధించినది కాదని మీరు కనుగొంటారు.

ఎందుకంటే మీకు విటమిన్-డి లోపం ఉంటే, విటమిన్ డి ఒక ఇమ్యునోమోడ్యులేటరీ. విటమిన్ డి గ్రాహకాల సామర్థ్యాన్ని పెంచుతుంది శరీరంలో విటమిన్ డి లోపం ఉంటే, అప్పుడు ఉపిరితిత్తుల యొక్క సహజ రక్షణ సామర్థ్యం కోల్పతుంది. మీ రక్తపోటును నియంత్రించండి, ఎందుకంటే ఇందులో యాంజియోటెన్సిన్ చాలా ఎక్కువ ఉంటుంది.

విటమిన్-డి మీ నాసోఫారెంక్స్ ప్రొటెక్టివ్ మెకానిజం మరియు కణాలలోకి ప్రవేశించే వైరస్ల స్థాయికి కూడా సహాయపడుతుంది.అందువల్ల, కోవిడ్ ముందు తీసుకుంటే విటమిన్-డి రక్షణగా ఉంటుంది.
కోవిడ్ సమయంలో, విటమిన్ డి యొక్క హైడ్రోస్ 3 రోజులు సంఘటన భాగంలో మరియు 3 నుండి 6 నెలల వరకు కోవిడ్ వ్యాధిని నివారించడానికి సహాయపడుతుంది. కోవిడ్ తరువాత, మీకు నిరంతర విటమిన్ డి అవసరం, కాబట్టి ఈ మహమ్మారి యుగంలో, మీరు విటమిన్ డి లో లోపం ఉండకూడదని గుర్తుంచుకో