सोरियाटिक गठिया के बारे में सब जाने | Psoriatic Arthritis in Hindi

सोरियाटिक गठिया क्या है? What is psoriatic arthritis? 

सोरियाटिक गठिया Psoriatic Arthritis (पीएसए और PsA) एक प्रकार का गठिया है और यह एक तरह का ऑटोइम्यून बीमारी भी है। यह एक ऐसी स्थिति है जिसमे सूजन, गले में दर्द और जोड़ों में दर्द की समस्या होती है। सोरायसिस के कारण आपकी त्वचा और सर पर खुजली, पपड़ीदार लाल धब्बे दिखाई देते हैं। आजकल यह बिमारी बच्चों में भी होने लगी  हैं। सोरियाटिक गठिया के लक्षण रूमटॉइड गठिया जैसा ही होते हैं, लेकिन जहाँ रूमटॉइड अर्थराइटिस होने पर जोड़ों से जुड़ी समस्या ज्यादा होती है, लेकिन वहीं सोरियाटिक अर्थराइटिस में जोड़ों के दर्द की समस्या काफी कम होती है। 

सोरियाटिक गठिया के कितने प्रकार है? How many types of psoriatic arthritis are there?

एक तरह जहाँ गठिया कई प्रकार का होता है वहीं सोरियाटिक गठिया भी कई प्रकार का होता है। सोरियाटिक गठिया के पांच प्रकार है जिन्हें निचे वर्णित किया गया है :- 

सममित सोरियाटिक गठिया Symmetric psoriatic arthritis – सोरियाटिक गठिया का यह प्रकार आपके शरीर के दोनों किनारों पर समान जोड़ों को प्रभावित करता है, उदाहरण के लिए, आपके बाएं और दाएं दोनों घुटने। लक्षण रूमेटोइड गठिया के समान हो सकते हैं। सममित पीएसए हल्का होता है और रूमेटोइड गठिया की तुलना में कम संयुक्त विकृति का कारण बनता है। लेकिन सममित पीएसए अक्षम किया जा सकता है। पीएसए वाले लगभग आधे लोगों में इसे देखा जा सकता है। 

असममित सोरियाटिक गठिया Asymmetric psoriatic arthritis – सोरियाटिक गठिया का यह प्रकार आपके शरीर के एक तरफ के जोड़ या जोड़ों को प्रभावित करता है। आपके जोड़ों में दर्द हो सकता है और वः लाल हो सकते हैं। असममित पीएसए आमतौर पर हल्का होता है। यह पीएसए वाले लगभग 35 प्रतिशत लोगों को प्रभावित करता है। 

डिस्टल इंटरफैंगल प्रमुख सोरियाटिक गठिया Distal interphalangeal predominant psoriatic arthritis – इस प्रकार के सोरियाटिक गठिया में आपके नाखूनों के सबसे करीब के जोड़ शामिल होते हैं। इन्हें दूरस्थ जोड़ों के रूप में जाना जाता है। 

स्पॉन्डिलाइटिस सोरियाटिक गठिया Spondylitis psoriatic arthritis – इस प्रकार के सोरियाटिक गठिया में आपकी रीढ़ शामिल होती है। आपकी गर्दन से लेकर आपकी पीठ के निचले हिस्से तक की पूरी रीढ़ प्रभावित हो सकती है। यह आंदोलन को बहुत दर्दनाक बना सकता है। आपके हाथ, पैर, पैर, हाथ और कूल्हे भी प्रभावित हो सकते हैं। 

प्सोरिअटिक गठिया म्यूटिलन Psoriatic arthritis mutilans – यह एक गंभीर, विकृत प्रकार का सोरियाटिक गठिया है। सोरियाटिक गठिया वाले लगभग 5 प्रतिशत लोगों में यह प्रकार होता है। सोरियाटिक गठिया म्यूटिलन आमतौर पर आपके हाथों और पैरों को प्रभावित करता है। इससे आपकी गर्दन और पीठ के निचले हिस्से में दर्द भी हो सकता है।

सोरियाटिक गठिया के लक्षण क्या है? What are the symptoms of psoriatic arthritis? 

सोरियाटिक गठिया के लक्षण हर व्यक्ति में अलग-अलग होते हैं। लक्षण हल्के से लेकर गंभीर तक हो सकते हैं। कभी-कभी आपकी स्थिति में सुधार होगा और आप कुछ समय के लिए बेहतर महसूस करेंगे। दूसरी बार आपके लक्षण खराब हो सकते हैं। आपके लक्षण आपके सोरियाटिक गठिया के प्रकार पर भी निर्भर करते हैं। आमतौर पर सोरियाटिक गठिया होने पर निम्नलिखित लक्षण दिखाई देते हैं :- 

  • शरीर के एक या दोनों तरफ सूजे हुए, 

  • परतदार सर 

  • सुबह के समय शरीर में जकड़न

  • सूजी हुई हाथ की उंगलियां और पैर की उंगलियां

  • दर्दनाक मांसपेशियों 

  • लगातार थकान बने रहना 

  • नाख़ून जड़ से अलग होने लगना 

  • आँखों का लाल होना

  • आंखों में दर्द (यूवेइटिस)

  • पपड़ीदार त्वचा के धब्बे, जो जोड़ों के दर्द के बढ़ने पर खराब हो सकते हैं

स्पॉन्डिलाइटिस सोरियाटिक गठिया जो कि सबसे सामान्य है के होने पर निम्नलिखित लक्षण दिखाई देते हैं :- 

  • रीढ़ की हड्डी में दर्द और जकड़न

  • दर्द, सूजन और कमजोरी

स्पॉन्डिलाइटिस सोरियाटिक गठिया होने पर स्पॉन्डिलाइटिस सोरियाटिक गठिया आपके शरीर के निम्नलिखित हिस्सों में में दर्द, सूजन और कमजोरी की समस्या हो सकती है  

  • कूल्हों

  • घुटनों

  • एड़ियों

  • पैर

  • कोहनी

  • हाथ

  • कलाई

  • अन्य जोड़

  • सूजे हुए पैर की उंगलियां या हाथ उंगलियां

सममित सोरियाटिक गठिया आपके शरीर के दोनों ओर के पांच या अधिक जोड़ों को प्रभावित करता है। असममित सोरियाटिक गठिया पांच से कम जोड़ों को प्रभावित करता है, लेकिन वे विपरीत दिशा में हो सकते हैं। 

सोरियाटिक गठिया म्यूटिलन गठिया का एक दुर्लभ रूप है जो आपके जोड़ों को विकृत करता है। यह प्रभावित उंगलियों और पैर की उंगलियों को छोटा कर सकता है। डिस्टल पीएसए आपकी उंगलियों और पैर की उंगलियों के अंतिम जोड़ों में दर्द और सूजन का कारण बनता है। 

सोरियाटिक गठिया होने के क्या कारण है? What causes psoriatic arthritis?

सोरियाटिक गठिया में, आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली आपके जोड़ों और त्वचा पर हमला करती है। फ़िलहाल तक डॉक्टर निश्चित रूप से नहीं जानते कि इन हमलों का कारण क्या है। डॉक्टरों के अनुसार सोरियाटिक गठिया जीन और पर्यावरणीय कारकों के संयोजन से होता है। सोरियाटिक गठिया एक वंशानुगत गठिया है जो कि एक से दुसरे को मिलता है। इस स्थिति वाले लगभग 40 प्रतिशत लोगों में सोरियाटिक गठिया वाले एक या अधिक रिश्तेदार होते हैं। पर्यावरण भी कुछ आमतौर पर उन लोगों के लिए बीमारी को ट्रिगर करता है जिनमें सोरियाटिक गठिया विकसित करने की प्रवृत्ति होती है। यह एक वायरस, अत्यधिक तनाव या चोट की समस्या हो सकती है। 

सोराटिक गठिया का उपचार कैसे किया जाता है? How is psoriatic arthritis treated? 

सोराटिक गठिया होने पर इसका उपचार दो तरीकों से किया जा सकता है, पहला रोगी कुछ घरेलू उपायों का प्रयोग कर सकते हैं और दूसरा इसकी दवाएं। घरेलु उपाय ज्यादा कारगर साबित नहीं होते इसलिए ऐसे में दवाएं लेना ही सही रहता है। सोराटिक गठिया होने पर रोगी डॉक्टर की सलाह से निम्नलिखित प्रकार की दवाओं का सेवन कर सकते हैं :- 

नॉनस्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्रग्स (NSAIDs) Nonsteroidal anti-inflammatory drugs (NSAIDs)

यह दवाएं जोड़ों के दर्द और सूजन को नियंत्रित करने में मदद करती हैं। ओवर-द-काउंटर (ओटीसी) विकल्पों में इबुप्रोफेन (एडविल) और नेप्रोक्सन (एलेव) शामिल हैं। यदि ओटीसी विकल्प प्रभावी नहीं हैं, तो आपका डॉक्टर उच्च खुराक में एनएसएआईडी लिख सकता है। नॉनस्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्रग्स का गलत या ज्यादा उपयोग किया जाए तो इसकी वजह से निम्नलिखित समस्याए भी हो सकती है :- 

  1. पेट में जलन

  2. पेट से खून बहना

  3. दिल का दौरा

  4. आघात

  5. जिगर और गुर्दे की क्षति

रोग-संशोधित एंटीरहायमैटिक ड्रग्स (डीएमएआरडीएस) Disease-modifying antirheumatic drugs (DMARDs) 

यह दवाएं जोड़ों की क्षति को रोकने और सोराटिक गठिया की प्रगति को धीमा करने के लिए सूजन को कम करती हैं। उन्हें मौखिक, इंजेक्शन, या पानी के साथ लिया जा सकता है। रोग-संशोधित एंटीरहायमैटिक ड्रग्स के मुख्य प्रकार निम्नलिखित है :- 

  1. मेथोट्रेक्सेट (ट्रेक्सल)

  2. लेफ्लुनामाइड (अरवा)

  3. सल्फासालजीन (एज़ुल्फिडाइन)

एप्रेमिलास्ट (ओटेज़ला) एक नया DMARD है जिसे मौखिक रूप से लिया गया है। यह सूजन में शामिल एक एंजाइम फॉस्फोडिएस्टरेज़ 4 को अवरुद्ध करके काम करता है।

रोग-संशोधित एंटीरहायमैटिक ड्रग्स (डीएमएआरडीएस) का गलत या ज्यादा उपयोग किया जाए तो इसकी वजह से निम्नलिखित समस्याए भी हो सकती है :- 

  • यकृत को होने वाले नुकसान

  • अस्थि मज्जा दमन

  • फेफड़ों में संक्रमण

बायोलॉजिक्स Biologics 

सोराटिक गठिया रोग के उपचार के लिए वर्तमान में पाँच प्रकार की जैविक दवाएं हैं। वह शरीर में लक्षित और अवरोध (ब्लॉक या कम) के अनुसार वर्गीकृत होते हैं: 

ट्यूमर नेक्रोसिस फैक्टर-अल्फा (TNF- अल्फा) अवरोधक:

  • सर्टोलिज़ुमैब (सिमज़िया)

  • गोलिमैटेब (सिम्पोनी)

  • एटैनरसेप्ट (एनब्रेल)

  • इन्फ्लिक्सिमाब (रेमीकेड)

इंटरल्यूकिन 12 और 23 (IL-12/23) अवरोधक:

  • ustekinumab (Stelara)

इंटरल्यूकिन 17 (IL-17) अवरोधक

  • सेकुकिनुमाब (कोसेंटेक्स)

  • ixekizumab (ताल्त्ज़)

इंटरल्यूकिन 23 (IL-23) अवरोधक

  • गुसेलकुमाब (ट्रेम्फ्या)

टी-सेल अवरोधक

  • abatacept (ओरेनिया)

नवंबर 2018 में जारी उपचार दिशानिर्देशों के अनुसार, इन दवाओं को प्रथम-पंक्ति उपचार के रूप में अनुशंसित किया जाता है। आप अपनी त्वचा के नीचे या एक जलसेक के रूप में एक इंजेक्शन के माध्यम से जीवविज्ञान प्राप्त करते हैं। क्योंकि यह दवाएं आपकी प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया को कम कर देती हैं, वे गंभीर संक्रमण के लिए आपके जोखिम को बढ़ा सकती हैं। अन्य दुष्प्रभावों में मतली और दस्त शामिल हैं।

स्टेरॉयड Steroids

यह दवाएं सूजन को कम कर सकती हैं। सोराटिक गठिया के लिए उन्हें आमतौर पर प्रभावित जोड़ों में इंजेक्ट किया जाता है। साइड इफेक्ट्स में दर्द और जोड़ों के संक्रमण का थोड़ा जोखिम शामिल है।


ध्यान दें, “किसी भी दवा का उपयोग बिना डॉक्टर की सलाह के न करें, इससे आपको कई शारीरिक समस्याएँ हो सकती है”।

Get our Newsletter

Filter out the noise and nurture your inbox with health and wellness advice that's inclusive and rooted in medical expertise.

Your privacy is important to us

MEDICAL AFFAIRS

CONTENT INTEGRITY

NEWSLETTERS

© 2022 Medtalks